संजीवनी टुडे

आर्टिकल 370 पर राहुल गांधी ने कहा, देश लोगों से बनता है, जमीन के टुकड़े से नहीं

संजीवनी टुडे 06-08-2019 13:14:39

लोकसभा में जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन बिल गृहमंत्री अमित शाह ने पेश कर दिया है। इससे पहले सोमवार को राज्यसभा से यह बिल पास हुआ था। सदन में बिल के पेश होते ही सदन में हंगामा।


नई दिल्ली। लोकसभा में जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन बिल गृहमंत्री अमित शाह ने पेश कर दिया है। इससे पहले सोमवार को राज्यसभा से यह बिल पास हुआ था। सदन में बिल के पेश होते ही सदन में हंगामा।

जम्मू कश्मीर से 370 हटाए जाने के बाद अमेरिका बोला- LoC पर शांति बनाए रखें भारत-पाक

देश लोगों से बनता है, जमीन के टुकड़े से नहीं-

राहुल गांधी कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने ट्वीट किया, विलय का मतलब जम्मू-कश्मीर को एकतरफा फैसले में टुकड़ों में बांटना, जन प्रतिनिधियों को जेल भेजना और संविधान का उल्लंघन नहीं है। देश लोगों से बनता है, जमीन के टुकड़े से नहीं। शक्ति के इस गलत इस्तेमाल का राष्ट्रीय सुरक्षा पर असर पड़ेगा।

-लोकसभा में कांग्रेस के सदस्य मनीष तिवारी ने कश्मीर पर सरकार के संकल्प का विरोध करते हुए कहा कि संसद में आज जो हो रहा है, यह त्रासदी है। 1952 से लेकर जब जब नये राज्य बनाये गये हैं या किसी राज्य की सीमाओं को बदला गया है तो बिना विधानसभा के विचार-विमर्श के नहीं बदला गया है। 

-मंगलवार को लोकसभा में गृह मंत्री अमित शाह ने जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने का प्रस्ताव पेश किया। इस दौरान लोकसभा में मौजूद कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने  इतिहास याद दिलाते हुए कहा कि जवाहरलाल नेहरूने कश्मीर को बहरत का अभिन्न अंग बनाया था। उन्होंने कहा 'साल 1947 में आजादी के बाद तीन राज्यों जम्मू-कश्मीर, हैदराबाद और जूनागढ़ के विलय के दौरान संवेदनशील स्थिति उत्पन्न हुई। लेकिन जम्मू-कश्मीर की स्थिति इन दोनों राज्यों से अलग थी।'

-लोकसभा में जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन बिल गृहमंत्री अमित शाह ने पेश कर दिया है। इससे पहले सोमवार को राज्यसभा से यह बिल पास हुआ था। सदन में बिल के पेश होते ही सदन में हंगामा। कांग्रेस संसदीय दल के नेता अधीर रंजन चौधरी ने अनुच्छेद 370 पर ऐसा सवाल पूछा कि गृहमंत्री अमित शाह ने उनकी खिंचाई कर दी। 

दिल्ली: घर में लगी आग, छह लोगों की मौत, 11 गंभीर रूप से घायल

अधीर रंजन चौधरी के सवाल का अमित शाह जवाब दे रहे हैं
कांग्रेस सांसद अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि आपने जम्मू कश्मीर को दो हिस्सों में तोड़कर केंद्र शासित प्रदेश बना दिया है। चौधरी ने कहा कि कश्मीर को आप अंदरूनी मामले बताते हैं लेकिन संयुक्त राष्ट्र वहां की निगरानी करता है। इस पर गृहमंत्री अमित शाह जवाब दिया। उन्होंने कहा कि संविधान में जम्मू-कश्मीर का एक राज्य के रूप में जिक्र है। ऐसे में जम्मू-कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है। उन्होंने कहा कि भारतीय संसद को इस पर कोई भी कानूनन बनाने का अधिकार है। अधीर रंजन चौधरी ने केंद्र पर नियमों को तोड़ने का आरोप लगाया, जिसपर गृह मंत्री अमित शाह ने ऐतराज जताया। शाह ने पूछा- आप बताएं कि कौन सा नियम तोड़ा गया। अधीर बोले- पूरे राज्य को जेलखाना बना दिया, पूर्व मुख्यमंत्रियों को जेल में बंद कर दिया गया है। अधीर रंजन चौधरी ने लोकसभा में बोलते हुए कहा कि मुझे नहीं लगता कि आप (बीजेपी) पीओके के बारे में कुछ सोच भी रहे हैं, आपने सभी नियमों का उल्लंघन किया और एक राज्य को रातों रात केंद्र शासित प्रदेश में बदल दिया। अमित शाह के एक जवाब में उनसे सवाल करते हुए अधीर रंजन ने कहा कि आप कहते हैं कि यह एक आंतरिक मामला है लेकिन 1984 से यूएन द्वारा इसकी निगरानी की जा रही है। क्या ये आंतरिक मामला है? हमने शिमला समझौता और लाहौर घोषणापत्र पर हस्ताक्षर किया क्या वह आंतरिक मामला है या द्विपक्षीय मामला है?

POK कश्मीर का हिस्सा है-अमित शाह
लोकसभा में गृह मंत्री अमित शाह ने कहा-मैं सदन में जब जब जम्मू-कश्मीर राज्य बोला हूं तब तब पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर और अक्साई चीन इसका हिस्सा है, ये भी कहा है। 

-अमित शाह ने कहा-कश्मीर की सीमा में POK भी आता है, जान दे देंगे इसके लिए

-कांग्रेस सांसद मनीष तिवारी ने जम्मू-कश्मीर के हालात पर लोकसभा में स्थगन प्रस्ताव का नोटिस दिया है।

-जम्मू-कश्मीर से अनुच्छद 370 हटाने और दो हिस्सों में बांटने के बाद फिलहाल घाटी में माहौल शांतिपूर्ण है। जम्मू-कश्मीर पुलिस के डीजीपी दिलबाग सिंह ने अपने एक बयान में कहा कि कश्मीर घाटी में हिंसा की कोई खबर नहीं है। उन्होंने कहा कि दक्षिण, उत्तर और मध्य कश्मीर में पूरी तरह से शांति का माहौल है।

J&K Article 370: कश्मीरी पंडितो ने एक-दूसरे को मिठाई खिलाकर मनाया जश्न, बोले- 30 वर्षों की थकान दूर हुई

-राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल और गृह सचिव आज श्रीनगर में हैं। घाटी में सुरक्षा व्यवस्था समीक्षा की जाएगी।

-जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद श्रीनगर और डोडा समेत राज्य के कई जिले में धारा 144 जारी है। इस बीच सुरक्षा कड़ी देखी जा रही है। सोमवार को राज्यसभा से जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन बिल पास होने 9के बाद आज लोकसभा में इस बिल को पेश किया जाएगा।

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब बटन

 

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From national

Trending Now
Recommended