संजीवनी टुडे

UP: कोरोना के सक्रिय मामलों की संख्या घटकर 57,086 हुई, रिकवरी दर बढ़कर 83.64 प्रतिशत तक पहुंची

संजीवनी टुडे 26-09-2020 19:18:43

प्रदेश में बीते चौबीस घंटे में कोरोना संक्रमण के 4,412 नए मामले सामने आए, वहीं इसी दौरान 6,546 लोग स्वस्थ होकर डिस्चार्ज किए गए।


लखनऊ। प्रदेश में बीते चौबीस घंटे में कोरोना संक्रमण के 4,412 नए मामले सामने आए, वहीं इसी दौरान 6,546 लोग स्वस्थ होकर डिस्चार्ज किए गए। राज्य में कई दिनों से नए मामलों की तुलना में स्वस्थ होने वालों की संख्या अधिक बनी हुई है।

अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने शनिवार को बताया कि इस समय कोरोना के 57,086 सक्रिय मामले हैं। बीच में संख्या में काफी उछाल आने के बाद अब लगातार दूसरे दिन यह संख्या 60 हजार से नीचे बनी हुई है। अब तक कुल 3,20,232 लोग इलाज के बाद पूरी तरह ठीक होने के बाद घर भेजे जा चुके हैं। राज्य में संक्रमण के बाद कुल मौतों की संख्या 5,517 पहुंच गई है। इनमें बीते चौबीस घंटे में 67 लोगों की मौत हुई है। इसके साथ ही राज्य में मरीजों के ठीक होने की दर वर्तमान में और बढ़कर 83.64 प्रतिशत हो गई है।कल यह 82.86 प्रतिशत थी। 

एक दिन में 1.56 लाख कोरोना नमूनों की हुई जांच
उन्होंने बताया कि राज्य की विभिन्न प्रयोगशालाओं में शुक्रवार को 1,56,828 कोरोना नमूनों की जांच की गई। वहीं अब तक कुल 94,67,186 कोरोना नमूनों की जांच की जा चुकी है।

29,266 मरीजों का होम आइसोलेशन में चल रहा इलाज
उन्होंने बताया कि प्रदेश में वर्तमान में कुल सक्रिय मरीजों में से 29,266 लोग होम आइसोलेशन यानि घर पर रहकर इलाज की सुविधा का लाभ ले रहे हैं। जो 51.26 प्रतिशत है। वहीं 3,629 लोग निजी अस्पतालों और 145 लोग होटल में एल-1 प्लस की सेमिपेड फैसिलिटी सुविधा के तहत अपना इलाज करा रहे हैं। इनके अलावा शेष राज्य सरकार की एल-1, एल-2 व एल-3 की व्यवस्था के तहत सरकारी अस्पतालों में भर्ती हैं। अभी तक कुल 2,03,246 लोग होम आइसोलेशन की सुविधा का लाभ ले चुके हैं। इनमें से 1,73,980 लोगों के इलाज का समय पूरा होने पर इन्हें डिस्चार्ज घोषित कर दिया गया है।

2,477 पूल के जरिए 14,455 नमूनों की हुई जांच
उन्होंने बताया कि शुक्रवार को 2,477 पूल के जरिए 14,455 नमूनों की जांच की गई। इनमें 2,063 पूल के जरिए प्रति पूल पांच-पांच नमूनों की जांच की गई, जिसमें 200 पूल की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। वहीं 414 पूल के जरिए प्रति पूल दस-दस नमूनों की जांच की गई, जिसमें 24 की रिपोर्ट पॉजिटिव आई।

12.46 करोड़ लोगों के बीच पहुंची स्वास्थ्य टीमें
स्वास्थ्य विभाग की टीमें लगातार विभिन्न क्षेत्रों में लोगों के बीच पहुंचकर सर्वेश्रण कर रही हैं। अभी तक 1,21,693 इलाकों में 3,83,567 टीमों ने 2,51,25,977 करोड़ घरों का सर्वेक्षण किया है। इसके तहत 12,46,72,537 करोड़ से अधिक लोगों की मेडिकल स्क्रीनिंग की गई है।

6,745 बच्चों ने एक दिन में सरकारी अस्पतालों में लिया जन्म
अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग के सरकारी अस्पतालों में प्रसव की सुविधाएं पहले की तरह मुहैया करायी जा रही हैं। 24 सितम्बर को प्रदेश में 6,745 शिशुओं ने सरकारी अस्पतालों में जन्म लिया। इनमें 6,527 नॉर्मल डिलीवरी और 218 सिजेरियन प्रसव हुए।

ई-संजीवनी के जरिए एक लाख से अधिक लोगों के परामर्श लेने वाला दूसरा राज्य बना उप्र
इसके साथ ही ई-संजीवनी पोर्टल का प्रदेश के लोग लगातार इस्तमाल कर रहे हैं, इस पोर्टल से घर बैठे डॉक्टरों से सलाह ले सकते हैं। शुक्रवार को 2,253 लोगों ने इस सुविधा का लाभ उठाया। अब तक कुल 1,00,109 लोग इस पोर्टल के जरिए चिकित्सीय लाभ ले चुके हैं। इस तरह उत्तर प्रदेश देश का दूसरा राज्य बन गया है, जहां एक लाख से अधिक लोगों ने ई-संजीवनी के जरिए चिकित्सकों से परामर्श लिया है। इससे पहले तमिलनाडु ऐसा करने वाला पहला राज्य बना था।

यह खबर भी पढ़े: ड्रग्स मामले में NCB ने क्षितिज प्रसाद को किया गिरफ्तार, करण जौहर की बढीं मुसीबतें

यह खबर भी पढ़े: भाजपा राष्ट्रीय कार्यकारिणी की घोषणा, राममाधव, मुरलीधर और अनिल जैन को नहीं मिली नड्डा की टीम में जगह

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From national

Trending Now
Recommended