संजीवनी टुडे

कांग्रेस विधायक दल की बैठक के बाद चार विधायकों को नोटिस, बाकी पहुंचे रिसॉर्ट मनोहर यडवट्टि

संजीवनी टुडे 18-01-2019 22:39:15


बेंगलुरु। जैसा कि अपेक्षित था, वही हुआ। प्रदेश कांग्रेस विधायक दल की अहम बैठक में पार्टी के चार विधायक अनुपस्थित थे लेकिन बैठक में शामिल होने वालों को उस समय अचानक झटका लगा, जब उन सभी को शहर के बाहरी इलाके में स्थित दो रिसॉर्ट्स में ले जाया गया। यह सब भाजपा के भय के चलते हुआ।

बैठक के बाद सभी 74 विधायकों को दो अलग-अलग बसों में सवार कर एक बस को बिड़दी के पास ईगलटन रिज़ॉर्ट में जबकि दूसरी को कुंबलगोडु के पास वंडर ला एम्यूजमेंट पार्क में ले जाया गया। हिरकेरुर विधायक बीसी पाटिल अपनी बेटी की शादी से जुड़ी रस्मों में शामिल होने के लिए वापस आ गए। कांग्रेस सूत्रों का कहना ​है कि यह सब सोची समझी रणनीति के तहत किया गया है क्योंकि पार्टी के कुछ असंतुष्ट विधायक अभी भी भाजपा के संपर्क में हैं। दो नाराज विधायक भी मुंबई से वापस लौटने की योजना बना रहे हैं। बैठक के पूर्व कांग्रेस के आला नेताओं के सामने शर्मनाक स्थिति उत्पन्न हो गई। क्योंकि विधायक दल की महत्वपूर्ण बैठक के लिए निर्धारित समय साढ़े तीन बजे तक चंद विधायक ही पहुंचे थे। विधायकों की कम उपस्थिति को देखते हुए बैठक दो घंटे बाद शुरू हुई। 

आज की इस बैठक से विधायक रमेश जारकीहोली, महेश कुमटाहल्ली, डॉ उमेश जाधव और बी नागेंद्र गैरहाजिर थे। उधर, विधायक उमेश जाधव ने सिद्धारमैया को पत्र लिखकर विधायक दल की बैठक में शामिल नहीं होने के लिए स्वास्थ्य कारणों का उल्लेख किया। बी नागेंद्र ने अदालती कार्यवाही का हवाला देते हुए अपना व्यक्तिगत कारण बताया था।

पार्टी के सूत्रों ने दावा किया कि वे अदालत में उपस्थित नहीं हुए। रमेश जारकीहोली और महेश कुमटाहल्ली को अनुशासनहीनता के लिए कारण बताओ नोटिस दिया जाएगा। राज्य विधानसभा में विपक्ष के नेता और पूर्व मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने कांग्रेस पर प्रशासनिक विफलता का आरोप लगाते हुए पलटवार किया और कहा कि राज्य के आधे से अधिक क्षेत्र गंभीर सूखे की स्थिति से गुजर रहे हैं।

More From national

Trending Now
Recommended