संजीवनी टुडे

एनएचएआई की परियोजनाओं के लिए पैसे की समस्या नहीं : गडकरी

इनपुट- यूनीवार्ता

संजीवनी टुडे 24-01-2020 17:00:40

मंत्री नितिन गडकरी ने कहा है कि राष्ट्रीय राजमार्गों के निर्माण की परियोजनाओं को गति दी जा रही है और राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण-एनएचएआई के पास इन कार्यों को पूरा करने के लिए पैसे की कमी नहीं है।


नई दिल्ली। सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने कहा है कि राष्ट्रीय राजमार्गों के निर्माण की परियोजनाओं को गति दी जा रही है और राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण-एनएचएआई के पास इन कार्यों को पूरा करने के लिए पैसे की कमी नहीं है।

गडकरी ने एनएचआई तथा मंत्रालय की राष्ट्रीय राजमार्ग परियोजनाओं को लेकर दो दिन तक चली समीक्षा बैठक के बाद शुक्रवार को संवाददाताओं से कहा कि प्राधिकरण की कई परियोजनाओं पर काम चल रहा है और कई अन्य परियोजनाओं के लिए काम आवंटित किया जा रहा है। इन परियोजनाओं पर काम पूरा करने के लिए प्राधिकरण के पास पैसे की कमी नहीं है। एनएचएआई का काम सबको दिखे इसके लिए एक पोर्टल भी बनाया गया है। पोर्टल के जरिए एनएचएआई के काम के बारे में जानकारी हासिल की जा सकती है।

यह खबर भी पढ़ें:​ Movie review: पैसा वसूल है 'Street Dancer 3D', नोरा और प्रभुदेवा का मुकाबला कर देगा हैरान

उन्होंने कहा कि सड़क परियोजनाओं को लेकर मंत्रालय तथा एनएचएआई की समीक्षा बैठक अब तीन महीने बाद फिर आयोजित की जाएगी। आगे होने वाली बैठकों में मंत्रालय, एनएचएआई तथा लोक निर्माण विभाग की सड़कों के निर्माण की अलग अलग समीक्षा बैठक की जाएगी।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि देश की महत्वपूर्ण भारत माला परियोजना की भी बैठक में समीक्षा की गयी। इस परियोजना के लिए कुल साढे नौ लाख करोड रुपए की लागत आनी है। इसके तहत अब तक 9674 किलोमीटर का काम दिया जा चुका है और कुछ अभी देना बाकी है।

उन्होंने कहा कि ग्रीन फील्ड एक्सप्रेस राजमार्ग पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। इस तरह का देश का पहला मुंबई पूना राजमार्ग था और अब दिल्ली मेरठ परियोजना पर काम चल रहा है। इसके अलावा बडोदरा-मुंबई, दिल्ली अमृतसर कटरा, चेन्नई बंगलूर, कानपुर लखनऊ, अमृतसर बटिंडा जामनगर जैसे कई महत्वपूर्ण परियोजनाएं हैं।

यह खबर भी पढ़ें:​ दिल्ली में एनएसए लगाए जाने के खिलाफ याचिका सुनने से इन्कार

अमृतसर बटिंडा जामनगर ग्रीनफील्ड एक्सप्रेस वे को अत्यधिक महत्वपूर्ण बताते हुए उन्होंने कहा कि इसके बनने से इस मार्ग की दूरी 170 किलोमीटर कम हो जाएगी। इसी तरह से दिल्ली में करीब 55 हजार करोड रुपए की परियेाजनाओं पर काम किया जा रहा है ताकि राष्ट्रीय राजधानी को जाम की समस्या से छुटकारा मिल सके। उन्होंने कहा कि दिल्ली जयपुर परियोजना पर 98 प्रतिशत काम पूरा हो चुका है।

जयपुर में प्लॉट मात्र 289/- प्रति sq. Feet में  बुक करें 9314166166

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From national

Trending Now
Recommended