संजीवनी टुडे

निशंक, शेखावत ने किया ‘समग्र शिक्षा-जल सुरक्षा’ अभियान का शुभारंभ

इनपुट-यूनीवार्ता

संजीवनी टुडे 10-08-2019 04:28:00

बच्चों को प्रेरित करने वास्ते शुक्रवार को ‘समग्र शिक्षा-जल सुरक्षा’ अभियान का शुभारंभ किया


नई दिल्ली। केन्द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ और केन्द्रीय जल शक्ति मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत ने देश में जल संरक्षण के लिए बच्चों को प्रेरित करने वास्ते शुक्रवार को ‘समग्र शिक्षा-जल सुरक्षा’ अभियान का शुभारंभ किया और उनसे हर रोज एक लीटर पानी बचाने की अपील की। राजधानी के दिल्ली कैंट स्थित केन्द्रीय विद्यालय संख्या-2 में डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन सभागार में आयोजित समारोह में उन्होंने छात्रों से अपील की कि वे प्रतिदिन एक लीटर पानी जरूर बचाएं ताकि 10 करोड़ बच्चों को इस अभियान से जोड़कर 10 करोड़ लीटर पानी रोज बचाया जा सके। समारोह के दौरान सचिव, स्कूल शिक्षा एवं साक्षरता सुश्री रीना रे और संयुक्त सचिव रामचंद्र मीणा भी उपस्थित रहे।

यह खबर भी पढ़ें:अनुच्छेद 370 हटाये जाने का जश्न मनायेगी भाजपा, शाह बधाई के पात्र

‘निशंक’ ने बच्चों से एक लीटर पानी प्रतिदिन बचाने के संकल्प को याद दिलाते हुए बच्चों से जल संरक्षण का ब्रांड एंबेसडर बनने की अपील की। उन्होंने कहा कि स्वच्छ भारत अभियान की तर्ज पर ही बच्चे अपने घर, विद्यालय और आसपास के क्षेत्रों में जल संरक्षण के प्रति जागरुकता फैलाने का कार्य करें। इस अवसर श्री शेखावत ने देश में पानी की कमी पर चिंता व्यक्त करते हुए विद्यार्थियों के साथ जल संचयन की विभिन्न विधियों पर प्रकाश डाला। उन्होंने इजराइल का उदाहरण देते हुए बताया कि किस प्रकार एक छोटे से देश ने पानी का इस प्रकार संरक्षण किया कि वह पानी निर्यात करने वाला देश बन गया। उन्होंने जल संरक्षण की दिशा में केन्द्रीय विद्यालय संगठन के प्रयासों की भी सराहना की।

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब चैनल

इस कार्यक्रम में निशंक एवं श्री शेखावत ने स्कूल शिक्षा एवं साक्षरता विभाग द्वारा तैयार की गई एक पुस्तिका का विमोचन भी किया, जिसका शीर्षक है, “मैं प्रतिदिन एक लीटर पानी कैसे बचा सकता हूं?” इस पुस्तिका में उन छोटे-छोटे उपायों की चर्चा की गयी है, जिनको अपना कर भारी मात्रा में पानी बचाया जा सकता है। जल संचय पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के प्रोत्साहन से प्रेरित होकर केन्द्र सरकार ने जल शक्ति अभियान शुरू किया है। यह एक समयबद्ध अभियान है, जिसमें मिशन की तरह काम किया जा रहा है। जल संरक्षण की यह संकल्पना विद्यार्थियों को समझना अत्यंत आवश्यक है, ताकि वे पानी के महत्व को समझ सकें और इससे किस प्रकार उनके जीवन को अर्थपूर्ण दिशा मिलती है। इससे उन्हें विद्यार्थियों को अपने दैनिक जीवन में जल संरक्षण के प्रति प्रेरणा मिलेगी। 

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From national

Trending Now
Recommended