संजीवनी टुडे

महिला डॉक्टर से गैंगरेप के आरोपियों के मुठभेड़ पर निर्भया की मां बोलीं- हो गया इंसाफ

संजीवनी टुडे 06-12-2019 10:29:00

हैदराबाद गैंगरेप के चारों आरोपियों को पुलिस ने मुठभेड़ में मार गिराया है। यह एनकाउंटर नेशनल हाइवे-44 के पास हुआ। पुलिस आरोपियों को एनएच-44 पर क्राइम सीन रिक्रिएट कराने के लिए लेकर गई थी।


नई दिल्ली। हैदराबाद गैंगरेप के चारों आरोपियों को पुलिस ने मुठभेड़ में मार गिराया है। यह एनकाउंटर नेशनल हाइवे-44 के पास हुआ। पुलिस आरोपियों को एनएच-44 पर क्राइम सीन रिक्रिएट कराने के लिए लेकर गई थी। पुलिस के मुताबिक चारों आरोपियों ने मौके से भागने की कोशिश की। पुलिस ने चारों आरोपियों को ढेर कर दिया है।

यह भी पढ़े: Hyderabad Doctor Murder Case: जिस फ्लाईओवर के नीचे दिया घटना को अंजाम, वहीं ढेर हुए आरोपी

आपको बतादें कि पशु चिकित्सक के साथ हैवानियत करने वाले चारों आरोपियों को पुलिस ने ठीक उसी जगह पर मार गिराया है जहां उन्होंने पीड़िता के साथ दरिदंगी को अंजाम दिया था। पुलिस सूत्रों के अनुसार क्राइम सीन रिक्रिएट करने के दौरान आरोपियों ने वहां से भागने की कोशिश की। जिसके बाद पुलिस ने उनका पीछा करते हुए रोकने के लिए गोली चलाई। जिसमें उनकी मौत हो गई। पुलिस ने फिलहाल सभी के शवों को मौके से हटा दिया है ताकि किसी भी तरह का हंगामा होने से बचा जा सके।

डीसीपी शमशाबाद प्रकाश रेड्डी ने कहा कि साइबराबाद पुलिस आरोपियों को घटना को रिक्रिएट के लिए के घटना स्थल ले गई थी। इसी दौरान आरोपियों ने पुलिस से हथियार छीन लिए और पुलिस पर फायरिंग की। आत्मरक्षा में पुलिस ने जवाबी फायरिंग की, जिसमें आरोपी मारे गए। साइबराबाद पुलिस कमिश्नर वी सी सज्जनर ने बताया कि सभी आरोपी को तड़के 3 बजे से सुबह 6 बजे के बीच चंदनपल्ली, शादनगर में पुलिस मुठभेड़ में मारे गए। वह घटनास्थल पर पहुंच गए हैं और आगे के विवरण का खुलासा किया जाएगा।

यह भी पढ़े: अजित पवार को सिंचाई घोटाले में महाराष्ट्र एंटी करप्शन ब्यूरो ने दी क्लीन चिट

इस एनकाउंटर पर निर्भया की मां ने खुशी जताई है। उन्होंने कहा कि मैं इस सजा से बेहद खुश हूं। पुलिस ने एक बड़ा काम किया है और मेरी मांग है कि जिन पुलिसकर्मियों ने इस एनकाउंटर को किया है। उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की जानी चाहिए। उन्होंने आगे कहा कि मैं पिछले 7 सालों से दौड़ रही हूं। मैं इस देश और सरकार की न्याय प्रणाली से अपील करती हूं कि निर्भया के दोषियों को जल्द से जल्द मौत की सजा दी जाए।

पुलिस मुठभेड़ में मारे गए सभी 4 आरोपियों पर दुष्कर्म पीड़िता महिला डॉक्टर के पिता ने कहा है कि मेरी बेटी की मौत हुए 10 दिन हो चुके हैं। मैं इसके लिए पुलिस और सरकार के प्रति आभार व्यक्त करता हूं। मेरी बेटी की आत्मा को अब शांति मिलेगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From national

Trending Now
Recommended