संजीवनी टुडे

नई तकनीक: भविष्य में लगाए जा सकेगें, मानव बॉडी के चूहे, बंदर, भेड़ व सूअर के अंग

संजीवनी टुडे 25-02-2018 16:13:26

Source: Google


पटना। इस विषय पर गंभीरता से शोध कर रहा है कि किन-किन से पशुओं के अंगों का उपयोग मानव शरीर में किया जा सकता है। भविष्य में मानव शरीर में पशु अंग लगाए जा सकेंगे। चूहे, बंदर, भेड़ व सूअर के अंगों का प्रयोग हो सकेगा। उनके कई अंगों का उपयोग मानव शरीर में प्रत्यारोपण के लिए किया जा सकता है। वर्तमान में चूहे, बंदर, सूअर एवं भेड़ पर रिसर्च की जा रहा है। उनके कई अंगों का उपयोग मानव शरीर में प्रत्यारोपण के लिए किया जा सकता है।

यें भी देखें: वीडियो : इस तरह बनाये हाेली पर चॉकलेट गुजिया

पूर्वानुमान एवं मूल्यांकन परिषद (टाइफैक) के कार्यकारी निदेशक डॉ. प्रभात रंजन पटना मेडिकल कॉलेज एण्ड हॉस्पिटल के स्थापना दिवस समारोह से पूर्व आयोजित सेमिनार में बोल रहे थे। सेमिनार का आयोजन पीएमसीएच एलुमिनाई एसोसिएशन ने किया था। स्थापना दिवस समारोह रविवार को मनाया जाएगा।

डॉ. रंजन ने कहा कि बे्रन की मेमोरी बढ़ाने में नई तकनीक काफी कारगर साबित हो रही है। मानव ब्रेन की मेमोरी बढ़ाने पर भी वैज्ञानिक रिसर्च कर रहे हैं। वैज्ञानिक ऐसे उपकरण विकसित कर रहे हैं, जिसके उपयोग से मानव के ब्रेन की मेमोरी बहुत हद तक बढ़ाई जा सकती है।

यें भी देखें: आप आप दर्द से है परेशान तो अपनाये ये घरेलू नुष्का, देखे वीडियो

अपोलो हॉस्पिटल, चेन्नई के स्पाइन सर्जन डॉ. सजन के हेगड़े का कहना है कि स्पाइन सर्जरी में क्रांतिकारी बदलाव आया है। अब स्पाइन सर्जरी सामान्य सर्जरी हो गई। इसमें 90 फीसद तक सफलता मिल रही है। ऑपरेशन के दूसरे दिन ही मरीज घर चला जाता है। एक सप्ताह बाद से वह काम करना शुरू कर देता है। ऑपरेशन कुशल चिकित्सकों द्वारा कराया जाना चाहिए।

MUST WATCH

पीएमसीएच के चर्म रोग विशेषज्ञ डॉ. अमरकांत झा अमर ने कहा कि शरीर में ओवर हार्मोन के कारण कई तरह की समस्याएं पैदा हो रही हैं। खासकर ऑक्सीटोसिन की सूई देकर दूध लेने से लोगों के शरीर में हार्मोन जनित समस्या पैदा हो रही है। ओवर हार्मोन के कारण ही लोगों को चर्म रोग की समस्या पैदा हो रही है।

sanjeevni app

More From national

Loading...
Trending Now