संजीवनी टुडे

एनडीआरएफ ने गर्भवती महिलाओं को बचाकर सुरक्षित अस्पताल पहुंचाया

संजीवनी टुडे 13-06-2019 16:36:18

चक्रवाती तूफान का खतरा काफी कम होने के बावजूद तटीय इलाकों में पानी फिर गया है।


अहमदाबाद। चक्रवाती तूफान का खतरा काफी कम होने के बावजूद तटीय इलाकों में पानी फिर गया है। जैसे-जैसे 'वायु' का झोंका गुजरात के करीब आ रहा है, वैसे-वैसे गुजरात के वातावरण में बदलाव होने के साथ ही भारी बारिश हो रही है। राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) की टीमें लोगों को बचाने और राहत कार्यों में लगी हैं। गुजरात में 'वायु' तूफान से पहले एनडीआरएफ और गुजरात सरकार ने लाखों लोगों को विस्थापित करके सुरक्षित जगहों पर पहुंचाया है। डर की वजह से अभी भी हजारों लोग पलायन कर रहे हैं। लोगों में घबराहट के बावजूद एनडीआरएफ के जवान उन्हें बचाने में कोई संकोच नहीं कर रहे हैं। 

गिर सोमनाथ के जालेश्वर में एनडीआरएफ टीम ने बचाव कार्य करके 250 लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया। अमरेली जिला कलेक्टर ने बताया कि अमरेली जिले में सात महीने की गर्भवती महिला को मातृत्व अवकाश की स्थिति में एनडीआरएफ और कोस्ट गार्ड की टीम ने तुरंत नाव के जरिये शियालबेट मेडिकल सेंटर पहुंचाया जिसके बाद महिला को सेंटर फॉर प्रेग्नेंसी में ले जाया गया। भावनगर कलेक्टर ने बताया कि कल दोपहर में भी 15 गर्भवती महिलाओं को वायु तूफान के कारण अस्पताल में स्थानांतरित किया गया जिनमें से 4 महिलाओं ने बच्चों को जन्म दिया है और सभी बच्चों और मां का स्वास्थ्य अच्छा है।

More From national

Trending Now
Recommended