संजीवनी टुडे

नीरव मोदी पर यूके की अदालत में सुनवाई 30 मई के बाद

संजीवनी टुडे 05-04-2019 02:45:00


नई दिल्ली। भारतीय बैंकों के हजारों करोड़ रूपये लेकर फरार हुए भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी की भारत वापसी अब आम चुनाव के बाद ही संभव हो सकेगी। यूनाइटेड किंगडम (यूके) की वेस्टमिनिस्टर अदालत ने नीरव मोदी की जमानत पर अगली सुनवाई को लेकर आदेश जारी किया है। जिसके मुताबिक अब नीरव मोदी केस में अगली सुनवाई 30 मई, 2019 के बाद होगी। उल्लेखनीय है कि भारत में आम चुनाव के परिणामों की घोषणा 23 मई को होगी, जिस दिन ये तय होगा कि अगली सरकार किसके नेतृत्व में बनेगी। 

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

गुरूवार को विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने एक सवाल के जवाब में बताया कि भारत सरकार ने भगोड़े कारोबारी नीरव मोदी के प्रत्यर्पण की सारी तैयारियां पूरी कर ली हैं। लेकिन नीरव मोदी का सारा मामला यूके की अदालत में विचाराधीन है। जिसके चलते भारत सरकार को नीरव मोदी के प्रत्यर्पण के लिए इंतजार करना पड़ रहा है। यूके के वेस्टमिनिस्टर अदालत ने हाल ही में नीरव मोदी की जमानत को लेकर आदेश जारी किया है, जिसके मुताबिक इस मामले में अगली सुनवाई 30 मई, 2019 के बाद होगी। इस तरह नीरव मोदी का प्रत्यर्पण अब अगली सरकार के कार्यकाल में ही संभव हो पाएगा। 

MUST WATCH & SUBSCRIBE

बता दें कि भगोड़े हीरा व्यापारी नीरव मोदी और उसके रिश्तेदार मेहुल चौकसी ने भारत के सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों से हजारों करोड़ रूपये का कर्ज लिया था। लेकिन उसे वापस करने के बदले वे देश छोड़कर भाग गए। मेहुल चौकसी एंटिगुआ-बारबाडोस में है, वहीं नीरव मोदी लंदन में रह रहा है। भारत सरकार दोनों ही भगोड़े अपराधियों के प्रत्यर्पण के लिए राजनयिक तरीके से प्रयास कर रही है। 

More From national

Trending Now
Recommended