संजीवनी टुडे

युवती के सामूहिक बलात्कार पर बिहार के मुख्य सचिव को नाेटिस

इनपुट- यूनीवार्ता

संजीवनी टुडे 16-09-2019 21:27:15

युवती के साथ कथित सामूहिक बलात्कार के बारे में मीडिया मे आयी रिपोर्ट का स्वत: संज्ञान लेते हुए राज्य के मुख्य सचिव और पुलिस महानिदेशक से चार सप्ताह में रिपोर्ट देने को कहा है।


नई दिल्ली। राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने एक साल पहले बिहार के मुजफ्फरपुर बालिका आश्रय स्थल में उत्पीड़न का शिकार हुई एक युवती के साथ कथित सामूहिक बलात्कार के बारे में मीडिया मे आयी रिपोर्ट का स्वत: संज्ञान लेते हुए राज्य के मुख्य सचिव और पुलिस महानिदेशक से चार सप्ताह में रिपोर्ट देने को कहा है।

यह खबर भी पढ़ें: ​धवन ने की भ्रम फैलाने की शिकायत, सुप्रीम कोर्ट ने नहीं दी तवज्जो

आयोग के अनुसार मुजफ्फरपुर आश्रय स्थल से 14 महीने पहले ही छुड़ाई गयी यह युवती पिछले साल जुलाई से अपने परिवार के साथ रह रही थी। आयोग ने कहा है कि यदि मीडिया में आयी रिपोर्ट सही है तो यह युवती के मानवाधिकारों का हनन है क्योंकि उसका दोबारा यौन उत्पीड़न किया गया है और दोषियों को अब तक गिरफ्तार नहीं किया गया है।

आयोग ने राज्य के मुख्य सचिव और पुलिस महानिदेशक को नोटिस जारी कर चार सप्ताह में रिपोर्ट देने तथा इस मामले में प्राथमिकी की स्थिति की जानकारी देने को कहा है। आयोग ने राज्य सरकार को इस युवती की उचित काउंसलिंग और चिकित्सा सहायता देने को कहा है जिससे वह सामान्य तरीके से रह सके। आयोग ने कहा है कि यह गंभीर मामला है कि इस युवती को पांच वर्ष पहले आश्रय स्थल में उत्पीड़न झेलना पड़ा था और अब दोबारा इसके साथ यह संगीन अपराध हुआ है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार इस युवती ने बेतिया पुलिस स्टेशन में शनिवार को शिकायत दर्ज करायी कि वह अपने एक रिश्तेदार के घर जा रही थी कि एक कार में अपहरण के बाद उसके साथ सामूहिक बलात्कार किया गया।

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

More From national

Trending Now