संजीवनी टुडे

नमो टीवी प्रसारित कार्यक्रम राजनीतिक विज्ञापन, आयोग करेगा निगरानी

संजीवनी टुडे 10-04-2019 15:41:06


नई दिल्ली। चुनाव आयोग ने दिल्ली के मुख्य निर्वाचन अधिकारी(सीईओ) को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के भाषणों को सीधे प्रसारित करने वाले ‘नमो’ टीवी को इश्तिहारी चैनल मानते हुए उसके सामग्री की जांच करने को कहा है। इसके अलावा आयोग भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) से इस पर होने वाले खर्च को उसके सालाना ऑडिट में शामिल करने को कहेगा। 'नमो' टीवी डीटीएच के माध्यम से प्रसारित होने वाला चैनल है। दिल्ली के सीईओ को आयोग ने यह सुनिश्चित करने को कहा है कि नमो टीवी में दिखाई जा रही सामग्री को ‘मीडिया प्रमाणन और निगरानी समिति’ ने पूर्व मंजूरी दी हो।

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

चुनाव आयोग ने इससे पहले नमो टीवी के संबंध में सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय से जवाब मांगा था। मंत्रालय ने डीटीएच सेवा प्रदाताओं से इस बारे में जानाकारी लेकर अपना जवाब आयोग के समक्ष प्रस्तुत किया था। मंत्रालय ने अपने जवाब में कहा था कि नमो टीवी एक इश्तिहारी मंच है, जिसे डीटीएच सेवा प्रदाता प्रसारित कर रहे हैं। इस तरह के इश्तिहारी चैनल के लिए मंत्रालय की अनुमति नहीं लेनी पड़ती। दूसरी ओर यह नियमित चैनल भी नहीं है, जिसके चलते यह मंत्रालय की चैनल सूची में भी शामिल नहीं है।

MUST WATCH & SUBSCRIBE

चुनाव आयोग ने सूचना और प्रसारण मंत्रालय से कांग्रेस और आम आदमी पार्टी की शिकायतों पर नमो टीवी का विवरण मांगा था। उल्लेखनीय है कि 31 मार्च को नमो टीवी देश के कुछ डीटीएच सेवा के दौरान प्रसारित होना शुरू हुआ था। इस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भाषण, भाजपा का चुनावी प्रचार और केंद्र सरकार की योजनाओं को दिखाया जाता है। 

More From national

Trending Now
Recommended