संजीवनी टुडे

मायावती ने कहा बसपा परिवारवाद से रहेगी मुक्त

संजीवनी टुडे 27-05-2018 09:19:50


लखनऊ। बसपा प्रमुख मायावती ने पार्टी के संविधान में बड़े बदलाव किए हैं। जिसकी उन्होंने शनिवार को घोषणा की थी। पार्टी में बदलाव की घोषणा करते हुए मायावती ने कहा अभी मैं अगले  20-22 वर्षों तक खुद सक्रिय रहकर पार्टी को आगे बढ़ाती रहूंगी। मायावती ने पार्टी संविधान में कई महत्वपूर्ण संशोधन करके पार्टी को परिवारवाद आदि से मुक्त रखने के संकल्प की घोषणा पार्टी की आल-इंडिया बैठक में की। 


मायावती ने अपने भाई आनंद कुमार को बसपा के उपाध्यक्ष पद से हटा दिया है। लेकिन हमारी पार्टी के भीतर भी कांग्रेस की तरह परिवारवाद की चर्चा शुरू हो गई। लोगों ने आनंद कुमार की तर्ज पर अपने  रिश्तेदारों को रखने की सिफारिश शुरू कर दी थी।

बहुजन समाज पार्टी प्रमुख मायावती ने शनिवार को कहा पार्टी किसी भी राज्य में और किसी भी चुनाव में सम्मानजनक सीटें मिलने पर चुनावी गठबंधन-समझौता करेगी। मायावती ने बताया मुझे खुद को भी मिलाकर तथा मेरे बाद अब आगे बसपा का जो भी राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाया जायेगा परिवार के किसी भी नजदीकी सदस्य को पार्टी संगठन में किसी भी स्तर के पद पर नहीं रखा जाएगा।

जयपुर में प्लॉट मात्र 2.40 लाख में call: 09314166166

MUST WATCH

संगठन में कई बदलाव करते हुए पहले चरण में इस द पर दो नेताओं वीर सिंह एडवोकेट और जयप्रकाश सिंह की नियुक्ति की गई है। नई जिम्मेदारियों की घोषणा भी की गई । यूपी के लिए आरएस कुशवाहा को पार्टी का नया प्रदेश अध्यक्ष नियुक्त किया गया है। निवर्तमान अध्यक्ष राम अचल राजभर को राष्ट्रीय महासचिव बनाया गया है। लालजी वर्मा छत्तीसगढ़ के और अशोक सिद्धार्थ दक्षिण भारत के तीन राज्यों के को आर्डिनेटर नियुक्त किया गया है।

sanjeevni app

More From national

Trending Now
Recommended