संजीवनी टुडे

योग करते हुए वीडियो बनाएं, भेजें और जीते एक लाख तक के पुरस्कार, 21 को होगी जीतने वालों के नामों की घोषणा

संजीवनी टुडे 05-06-2020 15:48:31

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर आयुष मंत्रालय और भारतीय सांस्कृतिक संबंध परिषद (आईसीसीआर) ने माई लाइफ माई योग नाम से प्रतियोगिता की शुरुआत की है।


नई दिल्ली। अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर आयुष मंत्रालय और भारतीय सांस्कृतिक संबंध परिषद (आईसीसीआर) ने माई लाइफ माई योग नाम से प्रतियोगिता की शुरुआत की है। इस प्रतियोगिता के तहत 15 जून तक आयुष मंत्रालय के सोशल मीडिया एकाउंट पर लोग योग करते व अपने अनुभव बताते हुए तीन मिनट का वीडियो बनाकर अपलोड कर सकते हैं। प्रतियोगिता जीतने वाले को एक लाख तक का पुरस्कार मिल सकता है।

प्रतियोगिता के लिए छह कैटिगरी तय की गई है। इसमें पहली कैटिगरी 18 साल से कम उम्र वाले युवा, दूसरी श्रेणी 18 साल से ज्यादा वाले लोग और तीसरी कैटिगरी में योग के प्रोफेशनल भाग ले सकते हैं। इस प्रतियोगिता में महिलाएं और पुरुष के लिए अलग-अलग कैटिगरी रखी गई है। यानि छह श्रेणियों में लोग अपनी मात्र भाषाओं में वीडियो बनाकर आयुष मंत्रालय को भेज सकते हैं। जीतने वालों के नामों की घोषणा 21 जून को की जाएगी।

लोगों के वीडियों का आकलन करने के बाद मंत्रालय सभी छह कैटिगरी के लिए तीन-तीन पुरस्कारों की घोषणा की है। सभी कैटिगरी में पहला इनाम एक लाख रुपये, दूसरा इनाम 50 हजार रुपये और तीसरा इनाम 25 हजार रुपये रखा गया है। इसके साथ विदेशी लोग भी इस प्रतियोगिता में भाग ले सकते हैं। उनके लिए पहला पुरस्कार 2500 डॉलर, दूसरा पुरस्कार 1500 डॉलर और तीसरा पुरस्कार 1000 डॉलर रखा गया है। इस प्रतियोगिता में भाग लेने वाले सभी प्रतिभागियों को आयुष मंत्रालय की तरफ से प्रशस्ति पत्र प्रदान किया जाएगा। दो हैशटैग के साथ भेजें वीडियो। प्रतियोगिता में भाग लेने वाले लोग आयुष मंत्रालय के साथ केन्द्र सरकार की वेबसाइट पर भी वीडियो अपलोड कर सकते हैं।

दो हैशटैग कर भेजें वीडियो:
लोगों को दो हैशटैग करके वीडियो भेजना है। एक में माई लाइफ माई योग के साथ हैश टैग भारत और दूसरा हैशटैग यूथ या फिर एडल्ट ( महिला और पुरुष)। इस संबंध में शुक्रवार को आयोजित प्रेस वार्ता में भारतीय सांस्कृति संबंध परिषद (आईसीसीआर) के अध्यक्ष विनय सहस्त्रबुद्धे ने बताया कि इस प्रतियोगिता का मकसद विश्व समुदाय में योग के प्रति समझ बढ़ाने के साथ उसके लाभ के बारे में भी बताना है। इस योजना के तहत बड़ी संख्या में योग करने वाले लोगों के अनुभव को जानने का मौका मिलेगा, इससे योग के प्रति लोगों की समझ बेहतर हो सकेगी। इस प्रतियोगिता से योग के कई आयाम को समझने का भी मौका मिलेगा।

आयुष मंत्रालय के सचिव वैद्य राजेश कोटेचा ने बताया कि कोरोना काल में योग दिवस का स्वरूप भी बदला है। मंत्रालय अब इस 6वें अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर इसे डिजीटल प्लेटफार्म के माध्यम से मनाया जाएगा। इस भव्य कार्यक्रम की रूप रेखा तैयार की जा रही है। इसके साथ मंत्रालय शुक्रवार से ही दूरदर्शन पर शाम को आधा घंटा योग के विभिन्न पहलुओं पर कार्यक्रम प्रसारित करेगा।

यह खबर भी पढ़े: दिल्ली मेट्रो के 20 कर्मचारी कोरोना संक्रमित, किसी में नहीं दिखे थे लक्षण

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From national

Trending Now
Recommended