संजीवनी टुडे

राजनीति में प्रेम और भाईचारा कायम हो, मोदी ने दोहराई आडवाणी की सलाह

संजीवनी टुडे 26-04-2019 19:41:52


वाराणसी। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि राजनीति में प्रेम और भाईचारा वापस लौटना चाहिए। राजनीति में यह दोनों होना बहुत जरूरी है। दुर्भाग्यपूर्ण है कि यह धीरे-धीरे खत्म हो रहा है। इसे वापस लाए जाने की आवश्यकता है।

उल्लेखनीय है कि पिछले दिनों भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) के मार्गदर्शक मंडल के सदस्य लालकृष्ण आडवाणी ने एक ब्लॉग के जरिए ऐसी ही सलाह दी थी। आडवाणी के कथन को मोदी की कार्यप्रणाली पर टिप्पणी माना जा रहा था। लोकसभा चुनाव प्रचार के दौरान राजनीतिक संवाद के विषाक्त होने पर भी देश में चिंता का इजहार किया जा रहा है।

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

मोदी ने शुक्रवार को पार्टी कार्यकर्ताओं से संवाद के दौरान कहा कि भाषणों और टेलीविजन चैनलों पर नेताओं के बीच जो झगड़ा होता है उसका अनुसरण नहीं करना चाहिए। उन्होंने कहा कि विपक्षी उम्मीदवार और राजनीतिक विरोधी दुश्मन नहीं है तथा वे भी लोकतंत्र के सिपाही हैं। वे भी हमारे लिए सम्माननीय हैं। उन्होंने कहा पर विपक्षियों पर अनर्गल टिप्पणियां करने से बचना चाहिए। इसके साथ अहंकार और हेकड़ी वाला रवैया भी नहीं अपनाना चाहिए। कांग्रेस की ओर संकेत करते हुए उन्होंने कहा कि जो लोग हेकड़ी दिखाते थे उनका क्या हाल हुआ यह सबके सामने है। 'वे 400 से 40 सीट पर आ गए।'

MUST WATCH &SUBSCRIBE 

टेलीविजन चैनलों पर होने वाली तीखी नोंक-झोंक और आरोप-प्रत्यारोप के बारे में अपना अनुभव सुनाते हुए मोदी ने कहा कि कई वर्ष पूर्व ऐसी चर्चा में भाग लेने के लिए उन्हें बुलाया जाता था। डिबेट के समय वह विरोधी के प्रति कोई कटु टिप्पणी और आलोचना नहीं करते थे। टीवी वाले इससे बहुत निराश होकर कहते थे कि आपको बुलाने का क्या फायदा, आप तो चर्चा में कोई गर्मी ही पैदा नहीं करते। मोदी ने मजाकिया लहजे में कहा कि एंकर का मन रखने के लिए वह चर्चा में विरोधी के बारे में कुछ तीखी टिप्पणियां करने लगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From national

Trending Now
Recommended