संजीवनी टुडे

हिंसा पर भड़काऊ बयान देने की बजाए संयम बरतें नेतागण- अमित शाह

संजीवनी टुडे 25-02-2020 19:36:17

इस बैठक में दिल्ली के राज्यपाल अनिल बैजल और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल उपस्थित रहे। शाह ने दिल्ली में हो रही हिंसा की कड़ी निंदा करते हुए सभी राजनीतिक नेताओं से संयम बरतने की अपील की है।


नई दिल्ली। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने दिल्ली की स्थिति पर मुख्य राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों और वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक की। इस बैठक में दिल्ली के राज्यपाल अनिल बैजल और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल उपस्थित रहे। शाह ने दिल्ली में हो रही हिंसा की कड़ी निंदा करते हुए सभी राजनीतिक नेताओं से संयम बरतने की अपील की है।

मंगलवार को हुई बैठक में गृहमंत्री ने कहा कि इस स्थिति से दलगत राजनीति से ऊपर उठकर ही निपटा जा सकता है। जमीन पर पुलिस की कमी को गलत बताते हुए उन्होंने बताया कि दिल्ली पुलिस ने पेशेवर मूल्यांकन के आधार पर पर्याप्त दल और बल प्रभावित इलाकों में तैनात किए हैं एवं अधिकतम संयम बरतते हुए स्थिति पर नियंत्रण प्राप्त किया है। भविष्य में आवश्यकता अनुसार केंद्र सरकार द्वारा अतिरिक्त पुलिस बल दिए जा सकते हैं।

उन्होंने यह भी कहा कि दिल्ली की उत्तर प्रदेश और हरियाणा सीमाओं पर विशेष निगरानी बरती जा रही है। सुप्रीम कोर्ट में लंबित नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) के मुद्दे पर सुनवाई के मद्देनजर दिल्ली पुलिस सतर्क है कि कोई भी असामाजिक तत्व दिल्ली में प्रवेश ना पा सके। गृहमंत्री ने सभी पार्टियों से अपील की है कि सुप्रीम कोर्ट में इस मामले की सुनवाई को ध्यान में रखते हुए भड़काऊ वक्तव्य देने से बचें।

गृह मंत्री ने सभी पार्टियों से अपील की है कि अपने सांसद, विधायक, काउंसलर एवं पार्टी कैडरों को जनता के बीच भेजें और  प्रभावित इलाकों में वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के साथ मिलकर आम जनता के बीच भय और अफवाहों के माहौल को दूर करें। शाह ने दिल्ली पुलिस आयुक्त को निर्देश दिए हैं कि स्थानीय शांति समितियों के साथ मिलकर वे जनता से एक संवाद प्रक्रिया शुरू करें और उनमें विश्वास का माहौल कायम करें।

पुलिस हेड कांस्टेबल रतनलाल की मृत्यु पर शोक जताते हुए शाह ने कहा कि दिल्ली पुलिस एक पेशेवर पुलिस बल है और समाज में सुरक्षा और शांति का माहौल बनाए रखने में सदैव तत्पर है। उन्होंने अपील की है कि पुलिस का मनोबल बनाए रखने के लिए यह जरूरी है कि ऐसी स्थिति में पुलिस का सहयोग करें और हिंसा की कोई भी घटना होने से रोकें।

यह खबर भी पढ़े: CAA विरोध में प्रदर्शन के दौरान हुई दिल्ली हिंसा का मामला पहुंचा सुप्रीम कोर्ट, 26 फरवरी को होगी सुनवाई

यह खबर भी पढ़े: कमलनाथ के मंत्री ने राज्यसभा के लिए सिंधिया को बताया परफेक्ट, दूसरे ने किया विरोध

मात्र 289/- प्रति sq. Feet में जयपुर में प्लॉट बुक करें 9314166166

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From national

Trending Now
Recommended