संजीवनी टुडे

बुरहान वानी की बरसी पर कश्मीर घाटी बंद, अमरनाथ यात्रा एक दिन के लिए स्थगित

संजीवनी टुडे 08-07-2019 14:18:12

हिज्बुल मुजाहिदीन कमांडर तथा आतंकी बुरहान वानी की तीसरी बरसी पर सोमवार को कश्मीर घाटी में बंद के कारण सामान्य जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है।


श्रीनगर। हिज्बुल मुजाहिदीन कमांडर तथा आतंकी बुरहान वानी की तीसरी बरसी पर सोमवार को कश्मीर घाटी में बंद के कारण सामान्य जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। इस बंद का आह्वान अलगाववादियों के सांझा मंच ज्वाइंट रजिस्टेंस लीडरशिप ने किया है।

बंद का असर रामबन जिले के बनीहाल में भी देखने को मिला है। श्रीनगर शहर के कई हिस्सों में प्रदर्शनों की संभावना के चलते धारा-144 लागू की गई है। वहीं अमरनाथ यात्रा पर आतंकी हमले को देखते हुए जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग को हाई अलर्ट पर रखा गया है। आतंकी हमले तथा अलगाववादियों द्वारा घाटी बंद के आह्वान के चलते सोमवार को जम्मू से श्रीनगर के लिए जाने वाली श्री अमरनाथ यात्रा को प्रशासन द्वारा एक दिन के लिए स्थगित कर दिया गया है।

रकपुपरुबब

अलगाववादी नेताओं, सैयद अली शाह गिलानी, मीरवाइज उमर फारूक और यासीन मलिक, के सांझा मंच ज्वाइंट रजिस्टेंस लीडरशिप द्वारा आतंकी बुरहान वानी की तीसरी बरसी पर कश्मीर बंद का आह्वान किया गया। बंद के चलते कश्मीर घाटी में सोमवार को सभी दुकानें और व्यापारिक प्रतिष्ठान बंद रहे।

श्रीनगर शहर के ज्यादातर हिस्सों में पूर्ण बंद देखा जा रहा है। श्रीनगर के साथ ही घाटी के बाकी हिस्सों में भी बंद की सूचनाएं प्राप्त हो रही हैं। सड़कों पर यातायात भी बंद है, हालाकि इक्का-दुक्का निजी वाहन नज़र आ रहे हें। प्रशासन द्वारा कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए प्रशासन ने श्रीनगर तथा दक्षिण कश्मीर के ज्यादातर हिस्सों में मोबाइल इंटरनेट सेवा स्थगित कर दी है।

श्रीनगर शहर के कई हिस्सों में प्रदर्शनों की संभावना के चलते धारा-144 के तहत प्रतिबंध लागू किए गए हैं। प्रशासन ने एहतियातन कश्मीर घाटी में रेल सेवा को भी स्थगित कर रखा है। कश्मीर बंद का असर बनीहाल में भी देखा जा रहा है। राजमार्ग के साथ लगते बनीहाल तथा दूसरे क्षेत्रों में सोमवार को सभी स्कूल और दुकानें रहीं। वहीं कश्मीर घाटी बंद तथा अमरनाथ यात्रा पर आतंकी हमले के इनपुट के चलते प्रशासन ने सोमवार को यात्रा एक दिन के लिए स्थगित रखी है। सोमवार सुबह जम्मू से श्री अमरनाथ यात्रा के लिए जाने वाले किसी जत्थे को रवाना नहीं किया गया।

प्रशासन ने अमरनाथ यात्रियों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए यह कदम उठाया है। उल्लेखनीय हैं कि तीन साल पहले आठ जुलाई,2016 को अनंतनाग जिले के कोकरनाग क्षेत्र में सुरक्षाबलों ने एक मुठभेड़ के दौरान हिजबुल मुजाहिदीन कमांडर तथा आतंकी बुरहान वानी को मार गिराया था। इसके बाद कश्मीर घाटी में लगातार दो महीने तक हुए हिंसक प्रदर्शनों में 100 से अधिक लोग मारे गए थे।

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 4300/- गज, अजमेर रोड (NH-8) जयपुर में 7230012256

jujui

More From national

Trending Now
Recommended