संजीवनी टुडे

झारखंड : तब्लीगी जमात के 38 विदेशियों के खिलाफ अनेक मामलों में मुकदमा दर्ज

संजीवनी टुडे 10-04-2020 13:27:20

इन पर वीजा नियमों का उल्लंघन, राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत महामारी नियमों का उल्लंघन करने, लॉक डाउन के नियमों का पालन नहीं करने का आरोप लगाया गया है।


रांची। झारखंड में तब्लीगी जमात से जुड़े 38 विदेशी नागरिकों एवं पांच भारतीय नागरिक पर प्राथमिकी दर्ज की गई है। इन पर वीजा नियमों का उल्लंघन, राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत महामारी नियमों का उल्लंघन करने, लॉक डाउन के नियमों का पालन नहीं करने का आरोप लगाया गया है। इनमें अधिकतर धाराएं गैर जमानती है। उम्मीद जताई जा रही है कि अब यह अपने देश नहीं लौट पाएंगे। इन्हें क्वॉरेंटाइन से बाहर निकलने के बाद जेल जाना पड़ेगा।

पुलिस सूत्रों के अनुसार तब्लीगी जमात से जुड़े जिन विदेशी मौलवियों पर प्राथमिकी दर्ज की गई है। उनमें रांची के हिंदपीढ़ी थाने में 17 विदेशी नागरिक और एक भारतीय, जमशेदपुर के मुसाबनी में 11 विदेशी नागरिक तथा धनबाद के गोविंदपुर थाने में 10 विदेशी सहित 14 लोग शामिल है। रांची के पूरे इलाके के विभिन्न मस्जिदों से पकड़े गए सभी विदेशी नागरिक वर्तमान में खेलगांव स्थित क्वॉरेंटाइन सेंटर में रखे गए हैं। जबकि एक संक्रमित महिला रिम्स के आइसोलेशन वार्ड में इलाजरत है। वहीं जमशेदपुर में पकड़े गए विदेशी नागरिक पुलिस ट्रेनिंग सेंटर में रखे गए हैं। दर्ज प्राथमिकी में बताया गया है कि यह विदेशी नागरिक टूरिस्ट वीजा पर भारत में प्रवेश किया और धार्मिक नियमों का उल्लंघन है। ये विदेशी नई दिल्ली के निजामुद्दीन में आयोजित मरकज में भी शामिल हुए और वहां से राज्य के विभिन्न इलाकों के मस्जिद में पहुंचे। लॉक डाउन के दौरान कोरोना वायरस का संक्रमण फैलाने में अहम भूमिका निभाए।

उल्लेखनीय है कि तीन अप्रैल को  हिन्दुस्थान समाचार ने टूरिस्ट वीजा पर आकर धर्म प्रचार करने वाले विदेशियों पर पुलिस करेगी प्राथमिकी दर्ज की खबर लिखी थी। मामले में पुलिस ने एफआईआर दर्ज की है। मालूम हो कि गृह मंत्रालय ने पर्यटक वीज़ा पर तब्लीगी गतिविधियों में लिप्त पाए गए 960 विदेशियों को ब्लैक लिस्ट किया था। साथ ही आवश्यक कानूनी कार्रवाई करने का निर्देश दिया था। गृह मंत्रालय द्वारा पर्यटक वीज़ा पर तब्लीगी गतिविधियों में लिप्त पाए जाने के कारण 960 विदेशियों को ब्लैक लिस्ट किया गया है और साथ ही उनका भारतीय वीजा भी रद्द कर दिया गया था। गृह मंत्रालय ने तब्लीगी जमात, निजामुद्दीन के मामले में दिल्ली पुलिस और अन्य सम्बंधित राज्यों के पुलिस महानिदेशकों को विदेशी अधिनियम,1946 एवं आपदा प्रबंधन अधिनियम, 2005 के प्रावधानों का उल्लंघन करने के लिए 960 विदेशियों के विरुद्ध आवश्यक कानूनी कार्रवाई करने के निर्देश दिया था।

क्या कहते हैं अधिकारी
रांची के एसएसपी अनीश गुप्ता ने बताया कि 18 लोगों पर हिंदपीढ़ी थाने में एफआईआर दर्ज की गई है। जमशेदपुर एसएसपी अनूप बिरथरे ने बताया कि 11 लोगों पर प्राथमिकी दर्ज की गयी है। धनबाद एसएसपी किशोर कौशल ने बताया कि 10 विदेशी और चार भारतीय पर कुल 14 लोगों पर प्राथमिकी दर्ज की गई है।

इनपर हुई है एफआइआर
हिंदपीढ़ी (रांची) : सिति आयशा बिन्ती दाउद (मलेशिया), नूर रशीदा बिनती तोमादी (मलेशिया), नूर हयाती बिनती अहमद (मलेशिया), रशीदा अनी मजिहा (मलेशिया), नूर कमरूजामा बिन एबीडी रहमान (मलेशिया), माहाजीर बीन खामिस (मलेशिया), मोहाद शफीक बिन मतीसा (मलेशिया), मोहम्मद अजीम (मलेशिया), जाहेद कबीर (लंदन), शिपहान हुसैन खान (लंदन), महासीन अहमद (यूके), काजी दिलावर हुसैन (यूके), फारूख अलबर्ट खान (वेस्टइंडीज), मोहम्मद शैफुल इस्लाम (हॉलेंड), मुसा जालाब (त्रिनिदाद), नदीम खान (त्रिनिदाद), फर्मिंग सेसे (त्रिनिदाद) व हाजी मेराज (नाला रोड, हिंदपीढ़ी)। मुसाबनी (पूर्वी सिंहभूम, जमशेदपुर) : गुलोमिद्​दीन अब्दुल्ला (किरगिज रिपब्लिक), झनरबेक सिनाली (किरगिज रिपब्लिक), इस्लानबेक नुरगाजी (किरगिज रिपब्लिक), रूस्तम नुरकेरिम उल्लू (किरगिज रिपब्लिक), जाकिर चिया कुसुनो (कजाख्स्तान), इलियास मायानोव (कजाख्स्तान), इस्माइल मिसान्लो (कजाख्तान), शकीर शान अखुनाव (कजाख्सतान), देहइया ये (चीन), मायेरिल मा (चीन) व मेनई मा (चीन)।

गोविंदपुर (धनबाद) : अंधिका फहमी, मोहम्मद रिजकी हिदायह, मोहम्मद युसूफ इस्कंदर, सतरिया बायु आदिक पुतरा, अहमद ओंटे, अब्दुल्लो सुदियाना, उनदाग सुपरमैन, अखमद हमजाह, नसरूद्​दीन व तौफिक सगाला लबाबा (सभी इंडोनेशिया), जफ्फार इस्लामुद्​दीन मुंशी इशाक व मसूद खान (दोनों ठाणें डाइगर शिवड़ी नगर के गाइड), आसनबनी के सदर गुलाम मुस्तफा व सचिव शौकत अंसारी।

यह खबर भी पढ़े: CAA विरोध के चलते कोरोना का हॉट स्पॉट बना दिल्ली का जहांगीरपुरी, जरूरी चीजों को तरस रहे लोग

यह खबर भी पढ़े: कमलनाथ ने CM शिवराज को पत्र लिखकर की RT-PCR टेस्ट कराने की मांग

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From national

Trending Now
Recommended