संजीवनी टुडे

जम्मू-कश्मीर: CJI रंजन गोगोई बोले- जरूरत पड़ी तो मैं जाऊंगा कश्मीर

संजीवनी टुडे 16-09-2019 12:51:19

चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया रंजन गोगोई ने जम्मू-कश्मीर को लेकर दाखिल याचिकाओं की सुनवाई करते हुए कहा कि अगर जरूरत पड़ेगी तो मैं खुद श्रीनगर जाऊंगा। मैंने जम्मू-कश्मीर हाईकोर्ट से एक रिपोर्ट मांगी है। इस रिपोर्ट को देखने के बाद अगर मुझे लगा कि वहां जाना चाहिए तो मैं खुद वहां जाऊंगा। उन्होंने इस मामले की सुनवाई के दौरान CJI ने सरकार से पूछा कि आखिर जम्मू-कश्मीर में हालात को सामान्य करने के लिए अभी तक क्या कदम उठाए गए हैं उसकी जानकारी दी जाए।


नई दिल्ली। चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया रंजन गोगोई ने जम्मू-कश्मीर को लेकर दाखिल याचिकाओं की सुनवाई करते हुए कहा कि अगर जरूरत पड़ेगी तो मैं खुद श्रीनगर जाऊंगा। मैंने जम्मू-कश्मीर हाईकोर्ट से एक रिपोर्ट मांगी है। इस रिपोर्ट को देखने के बाद अगर मुझे लगा कि वहां जाना चाहिए तो मैं खुद वहां जाऊंगा। उन्होंने इस मामले की सुनवाई के दौरान CJI ने सरकार से पूछा कि आखिर जम्मू-कश्मीर में हालात को सामान्य करने के लिए अभी तक क्या कदम उठाए गए हैं उसकी जानकारी दी जाए।

यह भी पढ़े: मोदी-ट्रम्प का ऐतिहासिक ‘संगम’, करेंगे 50 हजार लोगों को मिलकर संबोधन

- सुप्रीम कोर्ट ने दी गुलाम नबी आजाद को कश्मीर जाने की इजाजत

कांग्रेस नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री गुलाम नबी आज़ाद को सुप्रीम कोर्ट ने कश्मीर जाने की इजाजत दे दी है। सुप्रीम कोर्ट की इजाजत के बाद अब गुलाम नबी आजाद बारामूला, अनंतनाग, श्रीनगर और जम्मू जिलों का दौरा कर सकते हैं। हालांकि इस दौरान वह कोई राजनीतिक कार्यक्रम में हिस्सा नहीं ले पाएंगे। वहां जाने के बाद वह सुप्रीम कोर्ट को एक रिपोर्ट सौपेंगे। इस बारे में केंद्र को नोटिस दिया गया है। 

 

यह भी पढ़े: आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने रेलवे स्टेशनों-मंदिरों को उड़ाने की दी धमकी, पत्र में लिखी ऐसी बात...

जम्मू-कश्मीर में सामान्य जीवन जल्द हो बहाल, राष्ट्रीय सुरक्षा को देख फैसला ले सरकार: सुप्रीम कोर्ट

सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र और जम्मू-कश्मीर सरकार से कहा है कि जल्द से जल्द राज्य में सामान्य जीवन बहाल किया जाया। कोर्ट ने साथ ही कहा है कि ऐसा करते समय राष्ट्रीय सुरक्षा को भी ध्यान में रखा जाए। जम्मू-कश्मीर के हालात को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने भारत सरकार और जम्मू-कश्मीर सरकार को एक नोटिस जारी किया है। नोटिस का जवाब 30 सितंबर तक देना होगा। इस मामले पर अब अगली सुनवाई 30 सितंबर को होगी।

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

More From national

Trending Now
Recommended