संजीवनी टुडे

जामिया हिंसा मामला/ एसआईटी ने 22 सीसीटीवी फुटेज लिए कब्जे में, अबतक 78 की हुई पहचान

संजीवनी टुडे 19-02-2020 22:41:28

जामिया मिलिया इस्लामिया में हिंसा से जुड़े एक के बाद एक 6 वीडियो सामने आने के बाद तेज हुई जांच के दौरान क्राइम ब्रांच की स्पेशल इनवेस्टिगेटिव टीम (एसआईटी) ने लाइब्रेरी व आसपास लगे 22 सीसीटीवी फुटेज को कब्जे में लिया है। पु


नई दिल्ली। जामिया मिलिया इस्लामिया में हिंसा से जुड़े एक के बाद एक 6 वीडियो सामने आने के बाद तेज हुई जांच के दौरान क्राइम ब्रांच की स्पेशल इनवेस्टिगेटिव टीम (एसआईटी) ने लाइब्रेरी व आसपास लगे 22 सीसीटीवी फुटेज को कब्जे में लिया है। पुलिस ने केस दर्ज करने के बाद ही इन फुटेज को सुरक्षित रखने के लिए जामिया प्रशासन को कहा था। घटना के बाद से अबतक की जांच के दौरान एसआईटी ने करीब 78 की पहचान भी कर ली है। इसमें से 53 की पहचान तो घटना के तत्काल बाद ही हो गई थी।

जिनकी मौजूदगी घटनास्थल पर होने की बात का खुलासा हुआ था। जबकि अन्य 25 की पहचान हाल-फिलहाल में छात्रों व पुलिस की तरफ से एक के बाद एक जारी हुए वीडियो में हुआ है। पुलिस अब इन सभी से पूछताछ करेगी। दरअसल तीन दिन पहले  छात्रों व पुलिस के बीच वीडियो वार छिड़ने के बाद  क्राइम ब्रांच के स्पेशल कमिश्नर प्रवीर रंजन ने एसआईटी को जांच में तेजी लाते हुए जांच को जल्द से जल्द पूरा करने के निर्देश दिए थे। इसके बाद एसआईटी ने मंगलवार को घटनास्थल का दौरा किया और जिस -जिस भी जगह पर पुलिस गई थी, उस मौके का मुआयना किया। इस दौरान एसआईटी प्रमुख डीसीपी राजेश देव और एसीपी संदीप लांबा समेत अन्य कई अधिकारी भी मौके पर मौजूद थे। 

एसआईटी ने इस दौरान चार मंजिला इमारत वाली लाइब्रेरी व रीडिंग रूम के हर हिस्से पर जाकर पूरी बारीकी से पड़ताल की और जहां-जहां भी सीसीटीवी कैमरे लगे हैं, उससे जुड़े वीडियो जामिया प्रशासन से हासिल किए। ताकि जांच व उसकी कड़ियों को जोड़ने में इससे मदद मिल सके। दरसअल पुलिस के हाथ कुछ ऐसे तथ्य लगे हैं, जिसकी जांच कर उससे जुड़े सबूत एकत्र करना चाहती है।

वीडियोग्राफी के दौरान 11 लोगों से पूछताछ
वहीं एसआईटी ने मंगलवार को जामिया का दौरान कर अपने तीन घंटे की जांच के दौरान जहां लाइब्रेरी के हर एंट्री व एग्जिट प्वाइंट पर लगे सीसीटीवी को कब्जे में लिया। वहीं उन जगहों व वहां आने-जाने के लिए इस्तेमाल किए जाने वाली जगहों पर वीडियोग्राफी भी कराई। इसके अलावा वहां मौजूद कुछ छात्रों, कुछ शिक्षकों व प्रशासन से जुड़े लोगों से घटना के दिन के बारे में जानकारी भी हासिल की। वहीं घटना वाले दिन लाइब्रेरी व आसपास मौजूद 11 लोगों से इस बारे में पूछताछ भी की। मामले की जांच से जुड़े वरिष्ठ अधिकारी का कहना है कि अब बारी-बारी से एक-एक कर पहचाने गए लोगों से पूछताछ की जाएगी और वीडियो में दिखाई देने वाले संदिग्धों की तलाश में छापेमारी की जाएगी।

घटनास्थल की कराई गई वीडियोग्राफी
जामिया मिलिया इस्लामिया पहुंची एसआईटी टीम ने घटनास्थल की वीडियोग्राफी भी कराई। क्राइम ब्रांच की टीम जामिया की उस लाइब्रेरी में भी गई, जहां हिंसा के बाद सुरक्षाकर्मियों ने घुसकर छात्रों की पिटाई की थी। वहीं यूनिवर्सिटी में कहां-कहां सीसीटीवी लगे हैं, इसकी भी जानकारी ली और इन सभी जगहों पर जाकर वीडियोग्राफी भी कराई गई। क्राइम ब्रांच की टीम के साथ वीडियोग्राफी करने के लिए 2 लोग साथ गए थे। जाहिर है दिल्ली पुलिस ने इस मामले की जांच-पड़ताल के लिए विशेष जांच टीम एसआईटी का गठन किया गया है, जिसके बारे में जानकारी देते हुए क्राइम ब्रांच के स्पेशल कमिश्नर प्रवीर रंजन ने सोमवार को यह बताया था कि जामिया में हुई हिंसा मामले में जो भी वीडियो सामने आए हैं, उनकी एसआईटी जांच कर रही है। वीडियो में पुलिसकर्मियों को जामिया मिलिया इस्लामिया के पुस्तकालय में कथित रूप से जबरन घुसते हुए देखा जा सकता है। इससे पहले जामिया में नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) विरोधी प्रदर्शन के दौरान प्रदर्शनकारियों ने आगजनी और पत्थरबाजी की थी।

यह खबर भी पढ़े: निर्भया/ फांसी का समय करीब देख डिप्रेशन में आया दोषी विनय, दीवार पर अचानक सिर को पटकने लगा..... मचा हड़कंप

मात्र 289/- प्रति sq. Feet में जयपुर में प्लॉट बुक करें 9314166166

मात्र 289/- प्रति sq. Feet में जयपुर में प्लॉट बुक करें 9314166166

 
 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From national

Trending Now
Recommended