संजीवनी टुडे

विकास के लिए ‘जय अनुसंधान’ नारा बने : निशंक

संजीवनी टुडे 04-08-2019 21:08:57

मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने कहा है कि विकास के वास्ते नये नये शोध आवश्यक है


नई दिल्ली। मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने कहा है कि विकास के वास्ते नये नये शोध आवश्यक है और इसके लिए देश को अब जय जवान, जय किसान और जय विज्ञान के साथ ही जय अनुसंधान के नारे के साथ आगे बढने की जरूरत है। डॉ पोखरियाल ने रविवार को यहां भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान(आईआईटी) में प्रौद्योगिकी प्रदर्शनी टेकएक्स का उद्घाटन करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अनुसंधान पर विशेष जोर देते हैं और उन्होंने जय जवान, जय किसान, जय विज्ञान की तर्ज पर जय अनुसंधान का नारा दिया है। अनुसंधान आज की महती आवश्यकता है और इसके माघ्यम से विकास के नए आयामों की तरफ पहुंचा जा सकता है। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय अनुसंधान फाउंडेशन देश में शोध को नई दिशा उपलब्ध कराएगा।

आदिवासी महिला ने ट्रैक्टर ट्रॉली में लाडली लक्ष्मी को दिया जन्म

टेकएक्स प्रदर्शनी का आयोजन मानव संसाधन विकास मंत्रालय की दो प्रमुख योजनाओं इम्पैक्टिंग रिसर्च, इनोवेशन एंड टेक्नोलॉजी एवं उच्चतर आविष्कार योजना के तहत विकसित उत्पादों एवं प्रतिकृतियों को प्रदर्शित करने के लिए किया गया है। उन्होंने शोधकर्ताओं से कहा कि अनुसंधान का विषय संबंधित क्षेत्र की सामाजिक चिन्ताओं से जुड़ा होना जरूरी है ताकि उसका लाभ समाज के आखिरी कतार में खड़े व्यक्ति तक पहुंच सके।

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब चैनल

विकसित देशों के विकास में विश्वविद्यालयों में वहां किए गए अनुसंधानों उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा कि हमारे शैक्षणिक संस्थानों को एक नए भारत के निर्माण में उसी प्रकार की भूमिका का निर्वाह करना है। उन्होंने विश्वास जताया कि भारत इन संस्थानों के प्रयासों की बदौलत प्रत्येक क्षेत्र में विश्व नेता बन जाएगा। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि टेकएक्स एक अनूठा प्रयास है जो अनुसंधानकर्ताओं को उनके कार्य को प्रदर्शित करने के लिए एक शानदार मंच प्रदान कराता है और उन्हें उनके संबंधित क्षेत्रों में सर्वश्रेष्ठ कार्य करने के लिए प्रेरित करता है। 

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

yhjy

More From national

Trending Now
Recommended