संजीवनी टुडे

EVM पर चुनाव चिन्ह के बजाय प्रत्याशी की फोटो लगाई जाए, सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर

संजीवनी टुडे 29-10-2020 22:18:36

ईवीएम और बैलट पेपर पर राजनीतिक दलों के चुनाव चिह्नों की बजाय उम्मीदवारों की उम्र, योग्यता और फोटो लगाने का दिशा-निर्देश जारी किया जाए।


नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका दायर कर मांग की गई है कि ईवीएम और बैलट पेपर पर राजनीतिक दलों के चुनाव चिह्नों की बजाय उम्मीदवारों की उम्र, योग्यता और फोटो लगाने का दिशा-निर्देश जारी किया जाए।

भाजपा नेता और वकील अश्विनी उपाध्याय ने दायर याचिका में कहा है कि संविधान की धारा 14, 15 और 21 चुनाव में खड़े सभी उम्मीदवारों को बराबर अवसर देता है। चुनाव के दौरान ईवीएम पर पार्टी का चुनाव चिह्न देना संविधान का उल्लंघन है। याचिका में कहा गया है कि करीब 43 फीसदी सांसदों के खिलाफ आपराधिक मामले लंबित हैं। 2014 में हुए चुनाव में 542 जीते हुए सांसदों में से 185 सांसदों ने ये स्वीकार किया था कि उनके खिलाफ आपराधिक मामले लंबित हैं। 2009 के चुनाव के बाद 543 सांसदों में से 162 सांसदों ने अपने खिलाफ आपराधिक मामलों का लंबित होना स्वीकार किया था। याचिका में कहा गया है कि ऐसी स्थिति की वजह ईवीएम पर राजनीतिक दलों का चुनाव चिह्न अंकित होना है।

याचिका में कहा गया है कि बैलट पेपर और ईवीएम पर राजनीतिक दलों का चुनाव चिह्न होने से मतदाताओं में भ्रम पैदा होता है और वे गलत व्यक्ति को भी अपना मत दे देते हैं। याचिका में कहा गया है कि राजनीतिक दलों ने लोकतांत्रिक प्रक्रियाओं को बंधक बना लिया है और वे काले धन और बेनामी संपत्तियों के लेन-देन में लिप्त हो गए हैं।

यह खबर भी पढ़े: बैंक नोटों पर गलत नक्शा दिखाने पर भारत ने सऊदी से कहा, शीघ्र सुधारें गलती

यह खबर भी पढ़े: Bihar: रचना पाटिल DM और मानवजीत सिंह ढिल्लो होंगे मुंगेर के नए SP

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From national

Trending Now
Recommended