संजीवनी टुडे

मासूम बच्ची के सिर में था चार किलो का ट्यूमर, 5 घंटे की जटिल सर्जरी से बची जिंदगी

संजीवनी टुडे 19-10-2019 22:21:13

ऑक्सीपिटन मेनिंगोमायसील ट्यूमर जन्म से ही होता है। करीब एक लाख केस में ऐसा एक मामला सामने आता है। ट्यूमर से ब्रेन स्टेम जुड़ गए थे।


सूरत। उत्तर प्रदेश के अयोध्या के अस्पताल में पैदा हुई बच्ची को सूरत में सिविल अस्पताल के डॉक्टर्स ने नई जिंदगी दी हैं। 16 दिन की नवजात बच्ची की जटिल सर्जरी करने वाले न्यूरोसर्जन डॉ. जिगर शाह के मुताबिक़ बच्ची को जन्म से ही ट्यूमर था, जो रोजाना बढ़ रहा था। शाह ने बताया ऑक्सीपिटन मेनिंगोमायसील ट्यूमर जन्म से ही होता है। करीब एक लाख केस में ऐसा एक मामला सामने आता है। ट्यूमर से ब्रेन स्टेम जुड़ गए थे।

गांव में खोलना चाहते हैं अमूल कैफे, तो जरूर पढ़ें ये खबर!

इसके अलावा दिमाग के जरूरी पार्ट्स भी इससे जुड़ते जा रहे थे। इससे दिमाग का हिस्सा ट्यूमर के साथ बाहर आता जा रहा था। डॉक्टरों ने कहा- सर्जरी में बच्ची के बचने की सिर्फ एक फीसदी ही उम्मीद थी। उसे बचाने में हम सफल रहे। बच्ची का ट्यूमर का वजन बढ़कर चार किलो का हो गया था। 

ट्यूमर के साथ बच्ची का दिमाग भी बाहर आ रहा था। लेकिन डॉक्टर्स की टीम ने पांच घंटे की जटिल सर्जरी कर ट्यूमर को निकाल दिया और नवजात को नई जिंदगी दी। डॉक्टरों ने कहा, यदि कुछ दिन बाद ऑपरेशन होता तो दिमाग पूरी तरह से ट्यूमर में चला जाता। सर्जरी के दौरान सिर के एक-एक लेयर खोलकर फालतू टिशू काटकर बाहर निकाले। इससे ब्रेन स्टेम का हिस्सा सुरक्षित बच गया और मासूम को नई जिंदगी मिल गई।

मात्र 2500/- प्रति वर्गगज में फार्म  हाउस अजमेर रोड, जयपुर  में 9314188188

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From national

Trending Now
Recommended