संजीवनी टुडे

Lok Sabha Election Result : 271 / 542

Party Name Lead Won Last Election
BJP+ 153 195 336
Congress+ 46 46 60
Other 72 30 147
State Wise Lok Sabha Election Result Click Here

10 लाख से अधिक लेन-देन पर इनकम टैक्स विभाग करेगा जांच

संजीवनी टुडे 15-03-2019 22:56:00


बलौदा बाजार। बैंक स्थित किसी भी खाते में एक दिन में एक लाख से ज्यादा के लेन-देन की सूचना बैंकर्स को उसी दिन कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी को देनी होगी। इस तरह की खातों को आदर्श आचार संहिता के मद्देनजर संदेहास्पद मानते हुए उन पर कड़ी निगरानी रखी जाएगी। प्रतिदिन बैंकर्स संदेहास्पद लेनदेन रिपोर्ट (एसटीआर) जिला निर्वाचन कार्यालय में प्रस्तुत करना होगा। 

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

कलेक्टर कार्तिकेया गोयल ने शुक्रवार को जिला कार्यालय के सभाकक्ष में बैंकर्स सहित इनकम टैक्स, रेलवे और पोस्ट आॅफिस जैसे केन्द्रीय सेवा के अधिकारियों की संयुक्त बैठक लेकर उन्हें चुनाव आयोग के इस संबंध में जारी दिशा-निर्देशों से अवगत कराया। उन्होंने कहा कि एक दिन में खातों पर 10 लाख से अधिक के लेन-देन की जानकारी तत्काल इनकम टैक्स अधिकारियों को दी जाएगी। ताकि वे इन पर आगे की कार्रवाई शुरू करेंगे। 

कलेक्टर गोयल ने बैठक में बताया कि लोकसभा चुनाव के लिए प्रत्याशियों के खर्च की अधिकतम सीमा इस दफा 70 लाख रुपये निर्धारित की गई है। इससे ज्यादा खर्च होने पर प्रत्याशी का चुनाव रद्द हो सकता है। चुनाव लड़ रहे प्रत्याशी को प्रचार-प्रसार का समान अवसर उपलब्ध कराना प्रशासन की जिम्मेदारी है। उन्होंने प्रत्याशियों के खाते सहित उनके आश्रित लोगों के खातों पर विशेष निगरानी रखने के निर्देश बैंकर्स को दिए। कलेक्टर ने कहा कि चुनाव लड़ने वाले प्रत्याशी को किसी भी बैंक में अलग से नया खाता खुलवाकर इसी खाते के जरिए अपने चुनाव खर्चे का लेन-देन करना होगा। यदि कोई प्रत्याशी किसी बैंक में खाता खुलवाने आए तो तत्काल संपूर्ण कार्रवाई करते हुए खाता खोलें। वह अपने पूर्व के खोले गए खातों से लेनदेन दर्शाकर चुनाव नहीं लड़ पाएगा। 

MUST WATCH & SUBSCRIBE

उप जिला निर्वाचन अधिकारी सचिन भूतड़ा ने कहा कि रेलवे में आने वाली लदान का इस दौरान चुनाव आचार संहिता को ध्यान में रखते हुए चेकिंग करें। कोई गुमनाम अथवा संदेहास्पद सामग्री लगे तो इसे जब्त करके जिला निर्वाचन कार्यालय को सूचित किया जाए। उन्होंने पोस्टल बैलट के संबंध में पोस्ट आॅफिस को त्वरित कार्रवाई करने का आग्रह किया। कलेक्टर ने छत्तीसगढ़ ग्रामीण बैंक के अधिकारी की इस महत्वपूर्ण बैठक में बगैर कोई सूचना के गैरहाजिर रहने पर गहरी नाराजगी जाहिर की।

More From national

Loading...
Trending Now