संजीवनी टुडे

एसकेएमसीएच में डॉ. हर्षवर्धन की मौजूदगी में बच्ची ने दम तोड़ा

संजीवनी टुडे 16-06-2019 15:39:16

एक्यूट इंसेफलाइटिस सिंड्रोम (एईएस) और जापानी इंसेफलाइटिस (जेई) से पीड़ित बच्चों का जायजा लेने रविवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन मुज़फ्फरपुर पहुंचे। यहां उन्होंने एसकेएमसी हॉस्पिटल में बैठक कर चिकित्सकों से पूरी जानकारी ली


पटना। एक्यूट इंसेफलाइटिस सिंड्रोम (एईएस) और जापानी इंसेफलाइटिस (जेई) से पीड़ित बच्चों का जायजा लेने रविवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन मुज़फ्फरपुर पहुंचे। यहां उन्होंने एसकेएमसी हॉस्पिटल में बैठक कर चिकित्सकों से पूरी जानकारी ली। डॉ. हर्षवर्धन की उपस्थिति में ही अस्पताल में इंसेफेलाइटिस से 5 साल की बच्ची की मौत हो गयी। बच्ची राधेपुर की रहने वाली थी। वहीं, रविवार सुबह तीन बच्चों की मौत होने की सूचना है।

इसे लेकर अस्पताल के अधिकारियों के साथ बैठक के बाद पत्रकारों से बात करते हुए डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि इंसेफलाइटिस से बच्चों की मौत बेहद दुखद है। लोगों से आग्रह है कि जबतक तापमान सामान्य नहीं हो जाता, धूप में घर से बाहर न निकलें। तेज गर्मी दिमाग पर असर डालती है। बच्चों को किसी भी हालत में धूप में नहीं निकलने दें। बच्चों को लगातार पानी पिलाते रहें और तबीयत खराब होने पर उन्हें जल्द से जल्द अस्पताल लेकर आये।

डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि केंद्र सरकार और स्वास्थ्य विभाग की ओर से इस बीमारी पर काबू पाने की भरसक कोशिश की जा रही है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने एसकेएमसीएच में मौजूद विभिन्न क्षेत्रों में विशेषज्ञता रखने वाली टीमों से बातचीत की। उन्होंने कहा कि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय लगातार स्थिति की निगरानी कर रहा है और एईएस/जेई के मामलों के प्रबंधन में राज्य स्वास्थ्य अधिकारियों की सहायता कर रहा है। हम जल्द ही एएसई/जेई मामलों को बढ़ने से रोकने में सक्षम होंगे। इस दौरे में डॉ. हर्षवर्धन के साथ केंद्रीय स्वास्थ्य राज्यमंत्री अश्विनी चौबे, बिहार सरकार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे और नगर विकास मंत्री सुरेश शर्मा भी मौजूद हैं।

मात्र 260000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

 

More From national

Trending Now
Recommended