संजीवनी टुडे

अगले कुछ घंटों में गुजरात तट से टकराएगा चक्रवाती तूफान 'वायु', ट्रैन- हवाई सेवा निरस्त, स्कूल और कॉलेजों में छुट्टी

संजीवनी टुडे 13-06-2019 07:55:22

अरब सागर में उठा चक्रवाती तूफान वायु अगले कुछ ही घंटों में चक्रवाती तूफान वायु गुजरात तट से टकराने वाला है। गुजरात सरकार ने वायु से निपटने के लिए करीब तीन लाख लोगों को को तटीय इलाके से निकालकर सुरक्षित स्थानों पर पहुंचा रही है।


नई दिल्ली। अरब सागर में उठा चक्रवाती तूफान ‘वायु’ अगले कुछ ही घंटों में गुजरात तट से टकराने वाला है। गुजरात सरकार ने ‘वायु’ से निपटने के लिए करीब तीन लाख लोगों को को तटीय इलाके से निकालकर सुरक्षित स्थानों पर पहुंचा रही है। गुजरात के आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने बताया कि अब तक 1,64,090 लोगों को निकाला जा चुका है। राज्य में समुद्र में मछली पकड़ने पर भी रोक लगा दी गई है। बंदरगाहों के लिए भी चेतावनी जारी की गई है। चक्रवात से निपटने के लिए वलसाड, गिर सोमनाथ, देवभूमि द्वारका, जामनगर, मांगरोल, पोरबंदर , कच्छ और अमरेली जिलों के तटीय क्षेत्रों में विशेष तैयारी की गई है।

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने वायु से निपटने के लिए बुधवार को कैबिनेट की बैठक बुलाई। सभी सरकारी अधिकारियों की छुट्टियां रद्द कर दी गई हैं। मुख्यमंत्री ने सभी पर्यटकों से किसी सुरक्षित जगह पर जाने के लिए कहा है। दूरसंचार विभाग ने दूरसंचार सेवा प्रदाताओं को बिना किसी अतिरिक्त शुल्क के इंटर-सर्कल रोमिंग की अनुमति देने के आदेश जारी किए हैं। एनडीआरएफ ने नौकाओं, पेड़ काटने वालों, दूरसंचार उपकरणों आदि से सुसज्जित 52 टीमों को पूर्व-तैनात किया है। भारतीय तटरक्षक बल, नौसेना, सेना और वायु सेना की इकाइयों को भी स्टैंडबाय पर रखा गया है और निगरानी विमान और हेलीकॉप्टर हवाई निगरानी कर रहे हैं। राज्य और केंद्रीय एजेंसियों की तैयारियों की समीक्षा करते हुए केंद्रीय गृह सचिव ने संबंधित अधिकारियों को सभी एहतियाती उपाय करने का निर्देश दिये। उन्होंने राहत शिविरों में आवश्यक भोजन, पेयजल और दवाइयां उपलब्ध कराने और बिजली, दूरसंचार, स्वास्थ्य इत्यादि जैसी सभी आवश्यक सेवाओं के रखरखाव को सुनिश्चित करने के लिए व्यवस्था की समीक्षा की और उन्हें नुकसान होने की स्थिति में तुरंत बहाली के उपाय करने को कहा।

ट्रैन- हवाई सेवा निरस्त
चक्रवाती तूफान के चलते एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने पोरबंदर, दीव, भावनगर, केशोड और कांडला की हवाई सेवा पूरी तरह से निरस्त कर दी है। इसके अलावा करीब 40 यात्री ट्रेनों को रद्द किया गया है और 28 की यात्रा दूरी को घटाया गया है। 

एनडीआरएफ और अन्य एजेंसियों 24 घंटे लोगों की सहायता के लिए काम कर रही है। चक्रवात वायु से निपटने के लिए राष्ट्रीय आपदा मोचन बल(एनडीआरएफ) की 40, एसडीआरएफ की 11, एसआरपी की 13 और सेना की 11 और बीएसएफ की दो इकाइयों को तैनात किया गया है। इसके अलावा 300 मरीन कमांडो भी गुजरात में तैनात हैं। साथ ही सेना की 13 टीमें आ गई हैं और छह हेलीकॉप्टरों को बचाव के लिए सरकार ने स्टैंडबाय मोड पर रखा है। 

स्कूल और कॉलेजों में 2 दिन की छुट्टी 
गुजरात सीएम विजय रूपाणी ने 'वायु' चक्रवात से संभावित रूप से प्रभावित होने वाले 10 जिलों में 13 और 14 जून को स्कूल और कॉलेजों में 2 दिन की छुट्टी करने के निर्देश दिये। 

मदद के लिए तैयार रहें कांग्रेस कार्यकर्ता: राहुल
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने गुजरात में चक्रवात तूफान 'वायु' की आशांका को देखते हुए कांग्रेस कार्यकर्ताओं को वहां के लोगों की मदद के लिए तैयार रहने को कहा है। राहुल ने बुधवार को ट्वीट कर कहा कि 'वायु' गुजरात तट के करीब पहुंचने वाला है। 

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब बटन

 

वायु का कहर 
- 155 से 165 किलोमीटर की रफ्तार से गुजरेगा चक्रवात द्वारका और वेरावल के बीच।  
- 408 तटवर्ती गांवों पर पड़ सकता है असर। 
- 60 लाख आबादी प्रदेश की प्रभावित हो सकती है।
- 11 जिले गुजरात के होंगे इससे प्रभावित।   
- 24 घंटे चक्रवात का दिखाई दे सकता है विकराल रूप। 
- 39 टुकड़ियां एनडीआरएफ की तैनात की गई हैं। 

मात्र 260000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

More From national

Trending Now
Recommended