संजीवनी टुडे

राममंदिर बनने का इंतजार कर रहे करोड़ों हिंदूः कैलाशानंद

संजीवनी टुडे 06-12-2018 17:17:53


हरिद्वार। श्रीदक्षिण काली पीठाधीश्वर महामंलेश्वर स्वामी कैलाशानंद ब्रह्मचारी महाराज ने कहा कि बाबरी मस्जिद गिराए जाने के 26 साल बाद भी रामलला टेंट में हैं। यह हिंदू समाज के लिए बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है। 

पूरा हिंदू समाज 26 साल से अयोध्या में श्रीराम लला का भव्य मंदिर बनने की इंतजार कर रहा है, लेकिन सरकारों की गलत नीतियों के चलते आज तक मंदिर नहीं बन सका। मंदिर के लिए हिंदुओं का इंतजार लगातार लंबा होता जा रहा है। इससे विशाल हिंदू जनमानस व संतों का धैर्य जवाब दे रहा है। 

गुरुवार को पत्रकारों से वार्ता करते हुए उन्होंने कहाकि 2014 में पूरे हिंदू समाज ने एकजुट होकर भाजपा को प्रचण्ड बहुमत के साथ केंद्र की सत्ता सौंपी थी। उसके बाद यूपी में भी ऐतिहासिक बहुमत के साथ भाजपा की सरकार बनवाई। केंद्र व यूपी दोनों जगह प्रचण्ड बहुमत वाली हिंदूवादी सरकारें होने के बाद भी मंदिर निर्माण में कोई प्रगति नहीं होने से हिंदू समाज निराश हो रहा है। 

उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार को अब और देर ना करके इसी शीतकालीन सत्र में कानून पारित कर मंदिर निर्माण का रास्ता साफ करना चाहिए। अयोध्या में भव्य राम मंदिर के निर्माण से करोड़ों लोगों की आस्था से जुड़ी हुई है। मंदिर निर्माण में सरकार की भूमिका को सुनिश्चित कर हिंदुओं के हितों में राम मंदिर निर्माण किया जाना जरूरी है। 

कहाकि संत समाज लगातार राम मंदिर निर्माण को लेकर सरकार को जगाने का प्रयास कर रहा है। संगठित होकर ही मंदिर निर्माण की बाधाओं को दूर किया जा सकता है। सभी धर्माचार्यो को साथ लेकर मंदिर निर्माण शुरू कराना चाहिए। कहाकि कानूनी लंबी लड़ाई लड़ने के पश्चात भी अब तक मंदिर निर्माण का रास्ता साफ नहीं हो रहा है। 

जयपुर में प्लॉट/ फार्म हाउस: 21000 डाउन पेमेन्ट शेष राशि 18 माह की आसान किस्तों में, मात्र 2.30 लाख Call:09314166166
MUST WATCH & SUBSCRIBE

केंद्र सरकार जल्द से जल्द अध्यादेश लाकर मंदिर निर्माण का रास्ता साफ करे। इस अवसर पर स्वामी शिवानंद, स्वामी परमानन्द, आचार्य संजीव महाराज, स्वामी गोपालानंद, स्वामी साधनानंद, स्वामी प्रेमानंद, स्वामी सत्यव्रतानंद सहित कई संतों ने केंद्र सरकार से शीघ्र राम लला के मंदिर निर्माण कराने की मांग की।

sanjeevni app

More From national

Loading...
Trending Now