संजीवनी टुडे

विश्वविद्यालयों में भ्रष्टाचार के मुद्दे पर विधानसभा में हंगामा, सदन स्थगित

संजीवनी टुडे 20-07-2019 17:04:10

विश्वविद्यालयों में भ्रष्टाचार के मुद्दे पर विधानसभा में हंगामा, सदन स्थगित


भुवनेश्वर। राज्य के विभिन्न विश्वविद्यालयों में हर साल ऑडिट कर उसकी रिपोर्ट विधानसभा के पटल पर रखे जाने का प्रावधान होने के बावजूद गत 20 सालों से इसकी रिपोर्ट विधानसभा में नहीं रखे जाने के मामले को लेकर विपक्षी कांग्रेस विधायकों के हंगामे के कारण विधानसभा की कार्यवाही को स्थगित करना पड़ा। इस मुद्दे पर विधानसभा अध्यक्ष द्वारा सर्वदलीय बैठक बुलाए जाने के बाद स्थिति सामान्य हो सकी।

शून्यकाल में इस मुद्दे को उठाते हुए कांग्रेस विधायक दल के नेता नरसिंह मिश्र ने कहा कि ओडिशा विश्वविद्यालय एक्ट के तहत इस बात का प्रावधान है कि प्रत्येक वर्ष विश्वविद्यालय के खर्चों का ऑडिट किया जाएगा तथा इसकी रिपोर्ट विधानसभा में पेश की जाएगी। राज्य के लोगों के पैसे से विश्वविद्यालयों का खर्च चलता है इस कारण विधानसभा को इसके बारे में जानकारी लेने का अधिकार है लेकिन दुखद बात यह है कि नवीन पटनायक सरकार जब से सत्ता में आई हैं तब से यानी 20 सालों से यह रिपोर्ट विधानसभा में पेश नहीं की गई है। उन्होंने इस संबंध में विधानसभा के रिसर्च सेक्शन से जानकारी मांगी थी। उन्होंने भी यह जानकारी दी है कि पिछले 20 सालों से ऑडिट रिपोर्ट विधानसभा में पेश नहीं की गई है।

नरसिंह मिश्र ने कहा कि राज्य के लोगों के पैसे से चल रहे इन विश्वविद्यालयों को राज्य़ की जनता के पैसे से धनराशि दी जा रही है। इस कारण विश्वविद्यालयों में खर्च सही रूप से हो रहा है या नहीं या फिर पैसे का गबन हो रहा है इस बात की जानकारी लेने का अधिकार विधानसभा को है। विश्वविद्यालयों में वार्षिक ऑडिट हो रही है या नहीं और विधानसभा में इसे पेश नहीं किया जा रहा है इस कारण इसमें व्यापक भ्रष्टाचार होने और राज्य सरकार इसमें पार्टी होने का संदेह उत्पन्न होता है। 

राज्य में स्थापित ये विश्वविद्यालय अनेक विभागों के अधीन आते हैं। इसलिए इन सभी विभागों के मंत्रियों को विधानसभा मे उनके द्वारा लगाए गए आरोपों का जवाब देने के लिए कहा जाए। उन्होंने विधानसभा अध्यक्ष से अनुरोध किया कि यदि ऐसा नहीं होता है तो विधानसभा को स्थगित कर सर्वदलीय बैठक बुलाकर इस पर चर्चा की जाए।

विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि वह इस बारे में विचार करेंगे लेकिन तभी विपक्ष के विधाय़क सदन के बीच में आकर सर्वदलीय बैठक बुलाने की मांग कर हंगामा किया। इस कारण विधानसभा अध्यक्ष ने सदन की कार्यवाही को 11.55 से 12.50 तक स्थगित कर दिया। 12.50 पर फिर से जब सदन की कार्यवाही शुरू हुई तब विपक्षी काग्रेस विधायकों ने अपनी मांग दोहराई। विधानसभा अध्यक्ष ने इस मुद्दे को लेकर सर्वदलीय बैठक अपने प्रकोष्ठ में बुलाया एवं सदन की कार्यवाही को दोपहर तीन बजे तक स्थगित कर दिया।

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From national

Trending Now
Recommended