संजीवनी टुडे

धारा 144 लागू, सद्गुरु ट्रस्ट समेत सभी प्रमुख चौराहों पर भारी पुलिस बल तैनात

संजीवनी टुडे 24-02-2019 16:26:42


चित्रकूट। चित्रकूट स्थित सद्गुरु पब्लिक स्कूल से बीती 12 फरवरी को अगवा किए गए व्यापारी ब्रजेश रावत के जुड़वां बच्चों की अपहरणकर्ताओं द्वारा यमुना नदी में डुबोकर हत्या कर दी गई। उनके शव मिलने के बाद रविवार को व्यापारियों एवं स्थानीय लोगों में भारी आक्रोश है। प्रदर्शन के दौरान पथराव किए जाने पर पुलिस ने भी भीड़ पर लाठीचार्ज और आंसू गैस छोड़कर स्थिति को नियंत्रित करने का प्रयास किया। बढ़ते जनाक्रोश को देखते हुए यूपी और एमपी में फैले चित्रकूट में धारा 144 लगा दी गई है। 

जयपुर में प्लॉट मात्र 2.30 लाख में Call On: 09314188188

मध्य प्रदेश के आईजी रीवा चंचल शेखर, डीआईजी रींवा अविनाश शर्मा और चित्रकूट के अपर जिलाधिकारी जीपी सिंह व अपर पुलिस अधीक्षक बलवंत चौधरी भारी फोर्स के साथ रामघाट के पास मुस्तैद होकर स्थिति को नियंत्रित करने का प्रयास कर रहे हैं। सैकड़ों लोगों ने पुलिस और स्कूल प्रशासन मुर्दाबाद के नारे लगाते हुए स्कूल से लेकर रामघाट तक जुलूस निकाल कर प्रदर्शन किया। इस दौरान आक्रोशित लोगों ने सद्गुरु सेवा संघ संघ ट्रस्ट द्वारा संचालित शॉपिंग मॉल पर भी तोड़-फोड़ की। इस दौरान प्रदर्शनकरियों और मध्य प्रदेश पुलिस के बीच तीखी झड़प भी हुई। पुलिस को स्थिति नियंत्रित करने के लिए लाठीचार्ज और आंसू गैस के गोले भी दागने पड़े।

उत्तर प्रदेश के चित्रकूट क्षेत्र के तेल व्यवसायी ब्रजेश रावत के जुड़वां छह वर्षीय बच्चे प्रियांश और श्रेयांश जिले की सीमा से लगे मध्य प्रदेश के नया गांव थाना क्षेत्र के जानकीकुंड स्थित श्री सद्गुरु पब्लिक स्कूल में एलकेजी-यूकेजी में पढ़ते थे। बीती 12 फरवरी को दिन दहाड़े लाल रंग की ग्लैमर बाइक में सवार होकर आए दो नकाबपोश बदमाशों ने स्कूल परिसर में बस के चालक की कनपटी पर तमंचा लगा कर बस के अंदर बैठे दोनों बच्चों का अपहरण कर लिया था। इसके बाद फिरौती की रकम 20 लाख रुपये रकम लेने के बाद भी अपहर्ताओं ने पहचान हो जाने के डर से बांदा जिले के मुर्का थाना क्षेत्र में यमुना नदी पर जंजीर से बांधकर दोनों जुड़वां बच्चों की नदी में डुबोकर निर्मम हत्या कर दी। 

शनिवार रात पकड़े गए अपहरणकर्ताओं की निशानदेही पर दोनों प्रदेशों की पुलिस ने शवों को यमुना नदी से बरामद कर लिया था। मासूम जुड़वां बच्चों की अपहरण के बाद हत्या किये जाने की खबर फैलते ही पूरे जिले में भारी जनाक्रोश फैल गया। अपहरण और हत्या का मास्टर माइंड सद्गुरु सेवा संघ ट्रस्ट द्वारा स्थापित मंदिर के पुजारी का पुत्र पदम् शुक्ला निकलने से आगबबूला हुए लोगों ने सद्गुरु सेवा संघ ट्रस्ट के गेट पर पहुंच कर प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकरियों के बढ़ते आक्रोश को देखते हुए मध्य प्रदेश पुलिस ने सद्गुरु ट्रस्ट समेत सभी प्रमुख चौराहों पर भारी पुलिस बल तैनात कर दिया। कुछ शरारती तत्वों द्वारा प्रदर्शन के दौरान पथराव कर दिए जाने पर पुलिस ने भी भीड़ पर लाठीचार्ज और आंसू गैस छोड़कर स्थिति को नियंत्रित करने का प्रयास किया। घटना को लेकर बढ़ते जनाक्रोश को देखते हुए यूपी और एमपी में फैले चित्रकूट में धारा 144 लगा दी गई है। 

MUST WATCH & SUBSCRIBE

प्रदर्शन का नेतृत्व कर रहे राष्ट्रीय जन उद्योग व्यापर संगठन के राष्ट्रीय संगठन मंत्री शानू गुप्ता का कहना है कि चित्रकूट के तेल व्यापारी ब्रजेश रावत के जुड़वां बच्चों की अपहरण के बाद यमुना में डुबोकर की गई निर्मम हत्या दोनों प्रदेशो की पुलिस की नाकामी का नतीजा है। इस घटना के लिए पुलिस के साथ ही सद्गुरु सेवा संघ ट्रस्ट भी जिम्मेदार है। घटना का मास्टर माइंड पदम् शुक्ला सद्गुरु ट्रस्ट के मंदिर के पुजारी का पुत्र है। उन्होंने कहा कि घटना में शामिल रहे सभी आरोपितों को फांसी की सजा दी जानी चाहिए। अन्यथा पूरे प्रदेश के व्यापारी कारोबार बंद कर सड़कों पर उतरने को मजबूर होंगे। 

More From national

Trending Now
Recommended