संजीवनी टुडे

खुशखबरी: कोविड-19 के इलाज के लिए ‘आइटोलीजुमैब' इंजेक्शन को मिली मंजूरी, आपात स्थिति में...

संजीवनी टुडे 11-07-2020 17:28:04

भारत के औषधि नियंत्रक ने त्वचा रोग के उपचार में काम आने वाले आइटोलीजुमैब इंजेक्शन का कोविड-19 के उन मरीजों के उपचार में सीमित इस्तेमाल किए जाने की मंजूरी दे दी है,


नई दिल्ली। भारत में कोरोना वायरस का संक्रमण रुकने का नाम  नहीं ले रहा है, पिछले कुछ दिनों से रोजाना करीब 25 हजार नए केस सामने आ रहे है। इस बढ़ते संक्रमण के बीच एक अच्‍छी खबर आई है। भारत के औषधि नियंत्रक ने त्वचा रोग के उपचार में काम आने वाले ‘आइटोलीजुमैब' इंजेक्शन का कोविड-19 के उन मरीजों के उपचार में सीमित इस्तेमाल किए जाने की मंजूरी दे दी है, जिन्हें सांस लेने में मध्यम और गंभीर स्तर की दिक्कत हो। 

अधिकारियों ने शुक्रवार को बताया कि कोविड-19 के इलाज की चिकित्सीय आवश्यकताओं पर विचार करते हुए भारत के औषधि महानियंत्रक डॉ. वी जी सोमानी ने कोरोना वायरस के कारण शरीर के अंगों को ऑक्सीजन न मिलने की गंभीर अवस्था के इलाज में आपात स्थिति में मोनोक्लोनल एंटीबॉडी इंजेक्शन ‘आइटोलीजुमैब' के सीमित इस्तेमाल की मंजूरी दे दी है। इस संबंध में एक अधिकारी ने कहा, एम्स समेत अन्य अस्पतालों के श्वसन रोग विशेषज्ञों, औषधि विज्ञानियों और दवा विशेषज्ञों की समिति द्वारा भारत में कोविड-19 मरीजों पर चिकित्सकीय परीक्षणों के संतोषजनक पाए जाने के बाद ही इस इंजेक्शन के इस्तेमाल की मंजूरी दी गई है। 

अधिकारी ने कहा, पिछले कई वर्षों से त्वचा रोग के इलाज के लिए बायोकॉन कंपनी की यह पहले से स्वीकृत दवा है। उन्होंने बताया कि इस दवा के इस्तेमाल से पहले हर मरीज की लिखित में सहमति आवश्यक है। बता दे, देश में संक्रमण के पहले एक लाख मामले जहां 110 दिन में आए थे वहीं आंकड़े को आठ लाख तक पहुंचने में महज 53 दिन लगे हैं। देश में कोविड-19 के मरीजों की संख्या तीन जून को दो लाख से अधिक हुई थी, वहीं इसे तीन लाख तक पहुंचने में दस दिन लगे और इसके भी आठ दिन बाद 21 जून को संक्रमितों की संख्या चार लाख से अधिक हुई। इसके बाद अगले एक लाख मामले सिर्फ छह दिन में सामने आए और आंकड़े को सात लाख तक पहुंचने में दस दिन का समय लगा। अब रोजाना 25 हजार के पार नए केस सामने आ रहे है। 

स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकडों के अनुसार शनिवार को देश में संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 8,23,923 हो गए, वहीं पिछले 24 घंटे में 519 लोगों की मौत होने से मृतक संख्या बढ़कर 22,154 हो गई है। वही, देश में अब तक 5,16,347 लोग उपचार के बाद संक्रमणमुक्त हो चुके हैं। वहीं 2,85,043 संक्रमितों का उपचार चल रहा है। संक्रमण के कुल मामलों में विदेशी भी शामिल हैं, एक अधिकारी ने बताया, इस तरह अब तक करीब 62.78 प्रतिशत रोगी पूरी तरह स्वस्थ हो चुके हैं। 

यह खबर भी पढ़े: विधायकों को 15 करोड़ रु. तक का ऑफर देकर सरकार गिराना चाहती है BJP: अशोक गहलोत

यह खबर भी पढ़े: Mumbai: धारावी में कोरोना नियंत्रण पर WHO ने जताई खुशी, कहा- आक्रामक कार्रवाई से पाया जा सकता हैं छुटकारा

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From national

Trending Now
Recommended