संजीवनी टुडे

VEDIO,राष्ट्रीय हिंदू महासभा करवा रही 'गौमूत्र पार्टी' का आयोजन ,कुल्हड़ में परोसा जायेगा गौमूत्र

संजीवनी टुडे 14-03-2020 11:59:32

हिंदू महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष स्वामी चक्रपाणि ने अपने औपचारिक बयान में कहा है कोरोना से बचाव के लिए हिंदू महासभा टी पार्टी के तर्ज पर गोमूत्र पार्टी का आयोजन कर रही है जिसमे आप सभी का स्वागत है।


नई दिल्ली। पार्टी  का नाम सुनते ही हमारा मन हिलोरे मरने लगता है मन करता है पार्टी में जमकर खाएंगे पिएंगे मजे करेंगे। चाय पार्टी ,दारू पार्टी व अन्य पार्टी का नाम तो आपने सुना ही होगा लेकिन क्या आपने 'मूत्र पार्टी' का नाम सुना है, जी हां सही सुना आपने मूत्र पार्टी जंहा आपको मूत्र पिलाया जायेगा। s

यह मूत्र पार्टी 'गौमूत्र' पार्टी है जिसका आयोजन हिंदू महासभा के द्वारा किया जा रहा है। हिंदू महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष स्वामी चक्रपाणि ने अपने औपचारिक बयान में कहा है, 'कोरोना से बचाव के लिए हिंदू महासभा टी पार्टी के तर्ज पर  गोमूत्र पार्टी, का आयोजन कर रही है जिसमे आप सभी का स्वागत है। 
इतना ही नहीं हिंदू महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष कोरोना से बचाव के लिए यज्ञ का भी आयोजन करवा चुके हैं। हवन पूजा-पाठ से कुछ हुआ तो नहीं लेकिन भारत में कोरोना ने दस्तक दे दी है। अब देखना ये होगा की इस पार्टी में कितने लोग गौमूत्र का जायका लेने पहुंचते है।

s
आपको बता दे इस पार्टी का आयोजन 14 मार्च को अखिल भारतीय हिन्दू महासभा भवन नई दिल्ली में किया जा रहा है। पोस्टर में इस लिखित सूचना के अलावा गाय, सभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष स्वामी चक्रपाणि महाराज, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राजीव कुमार ‘आशीष’ की तस्वीरें हैं। सूत्रों के मुताबिक, इस पार्टी में जाने वालों को कुल्हड़ में गोमूत्र परोसा जायेगा। 


मीडियाकर्मियों द्वारा इस आयोजन के बारे में पूछने पर स्वामी चक्रपाणि ने बताया कि “कोरोना का कहर बढ़ रहा है। इसका बचाव हमारी जीवन पद्धति में ही है। हम इससे निपटने के लिए गोमूत्र पार्टी करा रहे हैं। कार्यक्रम में पहले हवन होगा। फिर कुल्हड़ में गोमूत्र पिया और पिलाया जाएगा, जबकि बाद में भजन करा जाएगा।

हालाँकि इस बीच अलग-अलग नेता कोरोना वायरस को लेकर अजीबोगरीब बयान दे रहे हैं। हिंदू महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष स्वामी चक्रपाणि ने यहां तक कहा कि कोरोना से बचाव के लिए मुंह पर मास्क लगाने की बजाय भगवान को चढ़ाए गए लौंग का टुकड़ा मुंह में रखें, स्वामी चक्रपाणि का कहना है, 'कोरोना से बचाव के लिए मुंह पर मास्क लगाने की जगह भगवान को चढ़ाए गए या उनका नाम लेकर एक लौंग मुंह में हमेशा रखें और कपूर की छोटी पोटली जेब में रखें, आपका पूरा शरीर सुरक्षित रहेगा'

हालांकि नुस्खों को लेकर कोई वैज्ञानिक आधार नहीं है, जिससे यह कहा जा सके कि इन नुस्खों से कोरोना का इलाज हो सकेगा। 

15 सालों से गोमूत्र पर शोध कर रहीं पंतनगर विवि की कीट वैज्ञानिक डॉ. रुचिरा तिवारी ने भी गोमूत्र से कोरोनावायरस के इलाज की संभावना जताते हुए इसमें शोध की जरूरत पर बल दिया है। बताया कि गोमूत्र मल्टीपर्पज इफेक्ट के रूप में काम करता है।      

डॉ. रुचिरा ने कहा कि गोमूत्र वायरस और फंगस से निपटने में कारगर है। जब गोमूत्र के छिड़काव से मधुमक्खियों में हुए वायरस अटैक को खत्म किया जा सकता है तो गोमूत्र की विशेषताओं पर शोध करना जरूरी है।
 
उन्होंने कहा कि कोरोनावायरस से लड़ने में यह कितना कारगर साबित होगा, अभी यह कह पाना मुश्किल है लेकिन तय है कि गोमूत्र इंसानों के लिए फायदेमंद है। इसके लिए शोध की आवश्यकता है। 

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From national

Trending Now
Recommended