संजीवनी टुडे

बोइनपल्ली अपहरण मामले में पूर्व मंत्री आखिला प्रिया को 14 दिन के लिए भेजा जेल

संजीवनी टुडे 14-01-2021 20:54:50

बोइनपल्ली अपहरण मामले में मुख्य आरोपित व पूर्व पर्यटन मंत्री भूमा अखिला प्रिया को 14 दिन के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।


हैदराबाद। बोइनपल्ली अपहरण मामले में मुख्य आरोपित व पूर्व पर्यटन मंत्री भूमा अखिला प्रिया को 14 दिन के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। इस मामले में पूर्व मंत्री के पति अभी फरार हैं।

गुरुवार को तीन दिन की पुलिस रिमांड समाप्त होने पर पुलिस ने अखिला प्रिया को आज न्यायाधीश के समक्ष पेश किया गया। मकर संक्रांति छुट्टी के कारण प्रिया को न्यायाधीश के आवास पर पेश किया गया। साथ ही पुलिस ने तीन दिन की पूछताछ से जुड़े बयान भी न्यायाधीश को सौंपे। न्यायाधीश ने अखिला प्रिया को न्यायिक हिरासत में चंचलगुड़ा जेल भेज दिया है। इस बीच, अखिला प्रिया के वकीलों ने उन्हें जमानत देने की अपील की। पुलिस रिमांड के दौरान बेगमपेट महिला पुलिस स्टेशन में तीन दिन तक प्रिया से पूछताछ की गई। सूत्रों के अनुसार पुलिस के पूछताछ के दौरान अखिला प्रिया से 300 सवाल किए गए। कई सवालों पर प्रिया ने मौन धारण किए बैठी रहीं। इसके बावजूद पुलिस ने कई महत्वपूर्ण जानकारियां अखिला प्रिया से उगलवाई हैं।

पुलिस सूत्रों के अनुसार अपहरण से पहले उनके पति भार्गव राम और सहयोगी गुंटुर श्रीनू ने राष्ट्रीय बैडमिंटन प्लेयर प्रवीण राव के घर की रेकी की और उनके इशारे पर अपहरण की घटना को अंजाम दिया था। पुलिस सूत्रों के अनुसार पूर्व मंत्री ने पुलिस को बताया है कि बॉलीवुड अभिनेता अक्षय कुमार अभिनीत 'स्पेशल 26' फिल्म से प्रेरित होकर उन्होंने अपहरण की साजिश रची थी। साजिश को अंजाम देने से पहले अखिला प्रिया ने पति भार्गव राम और उनके देवर चंद्रहास ने अपहरण के साजिशकर्ता सहयोगी श्रीनू के साथ मिलकर अपहरण में शामिल आरोपियों को अक्षय की फिल्म भी दिखाई थी।

उल्लेखनीय है कि 'स्पेशल 26' फिल्म में अक्षय कुमार और उसके साथियों ने नकली आयकर अधिकारी बनकर छापे मारे थे। भू संपत्ति विवाद को लेकर आंध्र प्रदेश के पूर्व पर्यटन मंत्री ने भी नकली आयकर अधिकारी बनने के लिए आरोपितों को प्रशिक्षित भी किया गया था। इसके बाद नगर के श्रीनगर स्थित कॉलोनी के एक सिनेमा कंपनी से किराए पर आयकर अधिकारियों की ड्रेस ली और नकली पहचान पत्र तैयारी करवाएं गए। इस कार्य में आखिल प्रिया, उनके पति भार्गव राम और सहयोगी श्रीनून के इस कार्य में पूरा सहयोग किया था। पूर्व मंत्री प्रिया के पति भार्गव राम अभी फरार हैं।

यह खबर भी पढ़े: whatsapp की नई प्राइवेसी पॉलिसी को दिल्ली हाईकोर्ट में चुनौती

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From national

Trending Now
Recommended