संजीवनी टुडे

75 साल के इतिहास में पहली बार... आज पीएम मोदी संयुक्त राष्ट्र महासभा को करेंगे संबोधित, इन अहम मुद्दों पर होगा जोर

संजीवनी टुडे 26-09-2020 08:25:46

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी संयुक्त राष्ट्र महासभा को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए शनिवार यानी आज संबोधित करेंगे।


नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी संयुक्त राष्ट्र महासभा को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए (26 सितंबर) शनिवार यानी आज संबोधित  करेंगे। आधिकारिक सूत्रों ने मिली जानकारी के अनुसार इस कार्यक्रम में आज पीएम मोदी को पहले वक्ता के रूप में रखा गया है। ये बैठक न्यूयॉर्क समय सुबह 9 बजे यानी भारतीय समयानुसार शाम करीब 6.30 बजे होगी। कोरोना वायरस महामारी के कारण संयुक्त राष्ट्र महासभा का आयोजन ऑनलाइन किया जा रहा है।

pm modi

बता दे की संयुक्त राष्ट्र के 75 साल के इतिहास में पहली बार, इस साल का वार्षिक महासभा सत्र वर्चुअली आयोजित किया जाएगा। कोरोना वायरस महामारी के कारण सदस्य राष्ट्रों के प्रमुख और सरकार वार्षिक सभा में शारीरिक रूप से शामिल नहीं होंगे। विश्व नेता सत्र के लिए पहले से रिकॉर्ड किए गए वीडियो स्टेटमेंट प्रस्तुत करेंगे।

pm modi

ये है सत्र का विषय

संयुक्त राष्ट्र महासभा के जारी 75वें सत्र का विषय "भविष्य जो हम चाहते हैं, संयुक्त राष्ट्र जिसकी हमें रूरत है।" इसमें बहुपक्षवाद के लिए हमारी सामूहिक प्रतिबद्धता की पुष्टि करते हुए कोविड का सामना करने में प्रभावी बहुपक्षीय कार्रवाई पर भी चर्चा होगी । संयुक्त राष्ट्र महासभा के दौरान भारत की प्राथमिकता आतंकवाद के खिलाफ वैश्विक कार्रवाई को और मजबूत करने पर जोर देने की होगी।

pm modi

दुनिया की नजर होगी पीएम मोदी के भाषण पर

इसके अलावा भारत प्रतिबंध पर फैसला लेने वाली लिस्टिंग समितियों में संस्थाओं और व्यक्तियों को सूचीबद्ध करने और उनके नाम हटाए जाने की प्रक्रिया में अधिक पारदर्शिता पर लिए जोर देगा। वहीं बीते दिनों पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के भाषणों के चलते पीएम मोदी के बयान पर सारी दुनिया की नजर होगी। गौरतलब है कि इमरान खान ने अपने भाषण में मोदी, आरएसएस और बीजेपी पर गंभीर आरोप लगाए थे।

pm modi

भारत की प्राथमिकता

भारत की प्राथमिकताओं में, अंतर्राष्ट्रीय आतंकवाद के लिए प्रभावी प्रतिक्रिया, सभी के लिए प्रौद्योगिकी और शांति स्थापना की सुव्यवस्थित करना है ताकि अंतर्राष्ट्रीय शांति और सुरक्षा के लिए समावेशी, बहुपक्षीय व्यवस्था के सुधार के लिए नया दिशानिर्धारण और जिम्मेदार समाधान हासिल किए जा सकें, शामिल हैं।

यह खबर भी पढ़े: जन्मदिन: 88 साल के हुए पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह, जानिए उनके बारे में अनसुनी बातें

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From national

Trending Now
Recommended