संजीवनी टुडे

मानव और हाथी संघर्ष को रोकने के लिए जंगल में खाना-पानी का हो रहा इंतजाम: जावड़ेकर

संजीवनी टुडे 10-08-2020 22:17:01

केन्द्रीय पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने सोमवार को कहा कि देश में मानव-हाथी संघर्ष को रोकने के लिए जंगलों में ही खाना और पानी का इंतजाम किया जा रहा है


नई दिल्ली। केन्द्रीय पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने सोमवार को कहा कि देश में मानव-हाथी संघर्ष को रोकने के लिए जंगलों में ही खाना और पानी का इंतजाम किया जा रहा है। जंगल में ही हाथियों को खाना और पानी मुहैया होगा तो वे रिहाईशी इलाको में आएंगे ही नहीं।

 इस योजना की शुरुआत हो गई है और लिडार तकनीक से जंगलों का सर्वे किया जा रहा है। इस योजना के तहत दिसंबर के बाद जो काम होगा, उसके सहारे अगले साल से जंगलों में पानी, घास, और खाद्य बहुत अच्छी मात्रा में पैदा होगी। इससे मानव-हाथी संघर्ष कम होगा। 

प्रकाश जावड़ेकर 12 अगस्त को मनाए जाने वाले विश्व हाथी दिवस के मौके पर आयोजित पोर्टल लॉन्च के मौके पर बोल रहे थे। इस मौके पर उन्होंने मानव-हाथी संघर्ष प्रबंधन व इसे संघर्ष को रोकने के उपायों वाले ड्राफ्ट को लॉन्च किया और इस संबंध में तैयार पोर्टल की भी शुरुआत की। इस मौके पर उन्होंने कहा कि मानव-हाथी के बीच संघर्ष होने से हर साल लोग और हाथी मारे जाते हैं। यह एक गंभीर चुनौती है।

 बात दें कि दुनिया में एशियाई हाथी की संख्या 50-60 हजार रह गई है। इनमें से 60 फीसदी एशियाई हाथी भारत में है। इस मौके पर पर्यावरण राज्य मंत्री बाबुल सुप्रीयो, पर्यावरण मंत्रालय के विशेष सचिव डॉ. संजय कुमार, वाइल्ड लाइफ के महानिदेशक सॉमित्रा दासगुप्ता, हाथी परियोजना के निदेशक नोयाल थोमस भी मौजूद थे।

यह खबर भी पढ़े: कोरोना संकट के बीच खेल प्रेमियों के लिए खुशखबरी, भारत सरकार ने IPL आयोजन को लेकर दी मंजूरी

यह खबर भी पढ़े: युजवेंद्र चहल की सगाई से काफी सरप्राइज हुए फैंस, सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे फनी मीम्स

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From national

Trending Now
Recommended