संजीवनी टुडे

फिल्म पद्मावत विवाद: SC के प्रतिबंध निर्णय के खिलाफ पुनर्विचार याचिका दायर करेगी राजस्थान सरकार

संजीवनी टुडे 21-01-2018 18:45:15

नई दिल्ली। राजस्थान में संजय लीला भंसाली की विवादित फिल्म पद्मावत कि रिलीज को लेकर सरकार ने पुनर्विचार याचिका दायर करने का निर्णय लिया है। राजस्थान के गृह मंत्री गुलाब चंद कटारिया ने कहा कि सरकार ने सुप्रीम कोर्ट के फिल्म पर प्रतिबंध के निर्णय के खिलाफ पुनर्विचार याचिका दायर करने का निर्णय लिया है। उन्होंने कहा कि पुनर्विचार याचिका सोमवार या मंगलवार को दायर की जायेगी। उन्होंने याचिका को मजबूती देने के लिये करणी सेना को भी याचिका में पार्टी बनने का आग्रह किया है। 

यह भी पढ़े: इस लड़की का डांस हो रहा है वायरल...देखकर हो जाओगे अदाओ के दीवाने

करणी सेना के नेताओं के साथ बैठक करने के बाद कटारिया ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के निर्णय का अध्ययन करने के बाद सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में पुनर्विचार याचिका दायर करने का निर्णय लिया है। उन्होंने कहा कि सरकार का मानना है कि आमजन की भावनओं का ध्यान रखा जाये। 

उन्होंने कहा कि शनिवार की बैठक में सेना के नेताओं को आमंत्रित किया गया था और सुप्रीम कोर्ट में सरकार की ओर दायर की जाने याचिका को मजबूत करने लिये उन्हें भी पार्टी बनने का आग्रह किया गया था। राजस्थान सरकार नकरणी सेना के साथ साथ मेवाड के राज परिवार को भी याचिका का हिस्सा बना सकती है। 

भंसाली के पत्र पर भड़की करणी सेना
श्री राजपूत करणी सेना के संरक्षक लोकेन्द्र सिंह कालवी ने संवाददाताओं से कहा कि भंसाली प्रोडेक्शन कम्पनी ने श्री राजपूत करणी सेना और जयपुर के श्री राजपूत सभा एक पत्र भेजा है। लेकिन यह पत्र मूर्ख बनाने के लिये भेजा गया है। इस पत्र को जला दिया जायेगा और इसका कोई जवाब नहीं दिया जायेगा। उन्होंने कहा कि इसमें कुछ नहीं है बल्कि यह फिल्म निर्माता द्वारा एक नाटक है। इसमें फिल्म की प्रदर्शन की कोई तारीख नहीं दे रखी है। कालवी ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने अपने निर्णय फिल्म के प्रतिबंध के विरोध में दिया है, लेकिन अब देश भर रिलीज हो रही फिल्म को रोकने के लिये ‘जनता कर्फ्यू’ लगाया जायेगा। 

यह भी पढ़े:कांग्रेस के एमएलसी दीपक सिंह ने की पुलिस अधिकारी के साथ बदतमीजी

प्रसून जोशी की राजस्थान में नहीं होगी एंट्री'
श्री राजपूत करणी सेना के अध्यक्ष महिपाल सिंह ने कहा कि प्रसून जोशी दूषित मानसिकता के शिकार है, जिसे उन्होंने फिल्म को प्रमाण पत्र जारी कर दर्शा दिया है। उन्होंने कहा कि जोशी को राजस्थान में प्रवेश नहीं करना चाहिए। उन्होंने कहा यदि वो आतें है तो स्वयं की जिम्मेदारी पर आयें। उन्होंने फिल्म के विरोध में सैनिकों से एक दिन का मैस का और एक दिन हथियार का बहिष्कार करने का आग्रह किया। 

Rochak News Web

More From national

Trending Now
Recommended