संजीवनी टुडे

बरगी बांध के पंद्रह गेट खोले, रायसेन का जबलपुर और भोपाल से सड़क संपर्क टूटा

संजीवनी टुडे 16-08-2019 10:51:36

मध्यप्रदेश के जबलपुर जिले स्थित बरगी बांध के पंद्रह गेट खोले जाने के कारण नर्मदा नदी के ऊफान पर आने से रायसेन जिले के बरेली के समीप बारना नदी के पुल पर बैक वाटर आ गया जिसके चलते रायसेन का जबलपुर और भोपाल से सड़क संपर्क टूट गया।


रायसेन। मध्यप्रदेश के जबलपुर जिले स्थित बरगी बांध के पंद्रह गेट खोले जाने के कारण नर्मदा नदी के ऊफान पर आने से रायसेन जिले के बरेली के समीप बारना नदी के पुल पर बैक वाटर आ गया जिसके चलते रायसेन का जबलपुर और भोपाल से सड़क संपर्क टूट गया।

बरगी बांध के सभी गेट खुले होने से देर रात को बरेली के पास बारना नदी पर पानी आ गया। जिस कारण नर्मदा नदी के किनारे बसे गावों में अलर्ट जारी कर दिया गया है। बारना पुल पर पानी आने से राष्ट्रीय राजमार्ग 12 का सड़क मार्ग बंद हो गया है। इसके भोपाल जबलपुर सड़क मार्ग बन्द है। दोनों तरफ बाहनों की लंबी कतारें लगी हुई हैं। वहीं विदिशा रायसेन राष्ट्रीय राजमार्ग 146 तीन दिन से है बंद है।

यह खबर भी पढ़े: राजस्थान के कई जिलों में भारी वर्षा के चलते बाढ़....बीसलपुर बांध में पानी ही पानी...

यहां बेतवा के पगनेश्वर पुल पर 10 फिट पानी है। जबलपुर के बरगी डेम के 15 गेट खुले हुए हैं। इसके चलते रायसेन जिले के उदयपुरा में नर्मदा नदी पर बने पुल पर पानी आ गया है। यह पुल रायसेन जिले को नरसिंहपुर जिले से जोड़ता है। इस क्षेत्र में लगभग 100 ग्राम बसे हुए हैं, जिनका संपर्क पर टूट गया है।

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब बटन

 

बरगी बांध के कंट्रोल रूम के अधिकारियों के अनुसार बुधवार रात से बरगी डेम के 15 गेट डेढ़ मीटर तक खोले गए हैं। जिनसे 3450 क्यूसिक पानी प्रति सेकेंड निकल रहा है। बताया गया है कि 1 लाख 28 हजार 900 क्यूसिक पानी छोड़ा जाना है। जिस कारण वर्तमान जलस्तर से नर्मदा नदी का जलस्तर 5 से 6 मीटर ऊपर बढने की संभावना है। अचानक बढ़ते जलस्तर को दृष्टिगत रखते हुए रायसेन जिला प्रशासन ने यहां नर्मदा नदी किनारे बसें ग्रामों में मुनादी भी कराई गयी है।

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

More From national

Trending Now
Recommended