संजीवनी टुडे

'दिल्ली चलो' मार्च के लिए राशन-पानी लेकर रवाना हुए किसान, हरियाणा-दिल्ली बॉर्डर पर भारी संख्या में सुरक्षाबलों की तैनाती

संजीवनी टुडे 26-11-2020 09:45:13

दिल्‍ली पुलिस ने किसानों को प्रदर्शन की इजाजत नहीं दी है, ऐसे में टकराव की स्थिति पैदा हो सकती है।


चंडीगढ़। केन्द्र के कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के ‘दिल्ली चलो मार्च’ के लिए आज किसानों का विशाल प्रदर्शन होने वाला है। ये किसान केंद्र द्वारा हाल में पास किए गए कृषि कानूनों का व्यापक विरोध कर रहे हैं। भारतीय किसान यूनियन के बैनर तले हजारों किसान आज दिल्ली में प्रदर्शन करेंगे। 

इसको देखते हुए दिल्ली पुलिस ने किसान आंदोलन को देखते हुए हरियाणा की सीमा पर सुरक्षा कड़ी कर दी है। इसके साथ ही आंदोलनकारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की बात कही है। वहीं, किसान आंदोलन के चलते दिल्ली मेट्रो की छह लाइनों पर सेवाएं प्रभावित रहेंगी।

Delhi Chalo March

किसानों के ‘दिल्ली चलो मार्च’ को विफल बनाने के लिए उसके एक दिन पहले बुधवार को हरियाणा ने पंजाब से सटी अपनी सीमा पर अवरोधक लगाए हैं और पड़ोसी राज्य के साथ बस सेवा भी निलंबित कर दी है। हरियाणा पुलिस ने किसानों को दिल्ली पहुंचने से रोकने के लिए अंबाला और कुरुक्षेत्र में राष्ट्रीय राजमार्ग पर पानी की बौछारों का भी उपयोग किया। 

भाजपा शासित हरियाणा ने किसानों के ‘दिल्ली चलो मार्च’ के मद्देनजर पंजाब के साथ अपनी बस सेवा बुधवार से तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दी है। हरियाणा के परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा ने बताया, ‘‘हमने पंजाब के लिए रोडवेज सेवा अगले दो दिन के लिए निलंबित कर दी है।’’

Delhi Chalo March

गौरतलब है कि विभिन्न किसान संगठनों ने जंतर मंतर पर धरना देने की घोषणा की थी। सूचना के अनुसार सिंघु बॉर्डर पर भारतीय किसान संगठन के नेता एवं कार्यकर्ता बुधवार को जमा हो गए थे। पंजाब से करीब 50 ट्रैक्टर ट्राली में 500 से 600 की संख्या में आए किसान दिल्ली में प्रवेश की तैयारी में थे। लेकिन आउटर नार्थ जिले की पुलिस एवं रिजर्व बल सिंघु बॉर्डर पर तैनात होने से वह दिल्ली में नहीं आ सके।

बता दें कि दिल्‍ली पुलिस ने किसानों को प्रदर्शन की इजाजत नहीं दी है, ऐसे में टकराव की स्थिति पैदा हो सकती है। हालात देखते हुए बॉर्डर पर भारी फोर्स तैनात है। पुलिस को साफ निर्देश हैं कि किसानों को दिल्‍ली में घुसने न दिया जाए। 

Delhi Chalo March

फिलहाल किसान करनाल के पास हैं। फरीदाबाद में धारा 144 लागू कर दी गई है। किसान राशन-पानी साथ लेकर आए हैं और उनकी योजना है कि जहां पुलिस उनको रोकेगी, वहीं धरने पर बैठ जाएंगे। पुलिस के अनुमान के अनुसार, पंजाब के लगभग 2,00,000 किसान 26 नवंबर से अपने 'दिल्ली चलो' आंदोलन के तहत दिल्ली रवाना होने के लिए तैयार हैं। किसानों के प्रदर्शन के चलते कई जगहों पर भारी जाम लग सकता है।

यह खबर भी पढ़े: द. भारत में निवार का कहर जारी, कई जिलों में लगातार बारिश और तेज हवाओं ने ढाया कहर, दोपहर 12 बजे तक तूफान कमजोर पड़ने की संभावना

 

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From national

Trending Now
Recommended