संजीवनी टुडे

एग्जिट पोलः चुनाव नतीजों के पूर्वानुमानों में भाजपा की वापसी तय

संजीवनी टुडे 20-05-2019 15:41:13


बेंगलुरु। कई एग्जिट पोल के नतीजों ने भारतीय जनता पार्टी को फायदा पहुंचाने वाला साबित किया है क्योंकि लगभग सभी एग्जिट पोल सर्वे में केंद्र में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) सरकार की वापसी का अनुमान जताया गया है। इससे भगवा खेमे में खुशी का माहौल दिख रहा है। मजे की बात यह है कि अगर इन सर्वेक्षणों में से अधिकांश सच होते हैं तो यह एक ऐतिहासिक फैसले के रूप में इतिहास में दर्ज हो जाएगा क्योंकि इससे पहले भाजपा केंद्र में लगातार दूसरी बार सत्ता में नहीं आई है।  
 
अधिकांश सर्वेक्षणों में मुख्य हिंदी बेल्ट में कुछ अलग ही कहानी बताई गई है। एग्जिट पोल के सर्वे की रिपोर्ट के अनुसार भारतीय जनता पार्टी ने न केवल हिंदी बेल्ट बल्कि ओडिशा और पश्चिम बंगाल में भी बड़े पैमाने पर अपने पहले के प्रदर्शन में सुधार किया है। ओडिशा में अपनी पहले की स्थिति को मजबूत करने के अलावा भाजपा को बीजू जनता दल (बीजेडी) द्वारा लाभान्वित होने की उम्मीद है, जिसका नेतृत्व मुख्यमंत्री नवीन पटनायक कर रहे हैं।  
 
उत्तर भारत के पूर्वानुमानों के विपरीत, दक्षिणी क्षेत्र में हालात कमोबेश ऐसे ही बने हुए हैं। शुरुआत में, द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (डीएमके) के नेतृत्व वाले गठबंधन ने तमिलनाडु की सभी 39 सीटों पर जीत हासिल करने का अनुमान लगाया था लेकिन इस तरह के दावे के विपरीत, अब सत्तारूढ़ अन्नाद्रमुक भाजपा के सहयोगी दल को 10 सीटों पर जीत का अनुमान है।
 
केरल में भी बहुत अंतर नहीं है क्योंकि कांग्रेस के नेतृत्व में संयुक्त लोकतांत्रिक मोर्चा (यूडीएफ) 14 सीटें जीतने के लिए तैयार है। सत्तारूढ़ वाम लोकतांत्रिक मोर्चा (एलडीएफ) को भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी) के नेतृत्व में चार सीटों पर ही संतोष करना पड़ रहा है जबकि भाजपा की तिरुवनंतपुरम में जीत की संभावना है। तेलंगाना और आंध्र प्रदेश दोनों में, भाजपा को लाभ कम है, जबकि कर्नाटक में उत्साहित है, जिसमें कहा गया है कि पार्टी 17 की अपनी पिछली संख्या में सुधार कर रही है और 18 से 23 सीटें जीत रही है।
 
जनता दल-सेक्युलर (जेडीएस) के नेतृत्व वाले ताबूत पर आखिरी कील ठोकने के लिए भारतीय जनता पार्टी की अनुमानित शानदार सफलता की भी आशंका जताई जा रही है। एग्जिट पोल के नतीजों से भाजपा खेमा बेहद उत्साहित मूड में है, जबकि जेडीएस और कांग्रेस दोनों खेमों के लिए चुनाव नतीजों के पूर्वानुमानों को पचा पाना खासा मुश्किल है। 

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब चैनल 

 
पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने एग्जिट पोल की रिपोर्ट पर अपनी राय रखी है। दूसरी ओर, मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी वास्तविक परिणामों की घोषणा से बहुत पहले से इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों (ईवीएम) में कमियां तलाशने की कोशिशें कर रहे हैं।

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

 

More From national

Trending Now
Recommended