संजीवनी टुडे

परीक्षा के प्रारूप के बदलाव को लेकर केंद्रीय मंत्री से मिलेंगे शिक्षा मंत्री

संजीवनी टुडे 19-06-2019 22:57:51

महाराष्ट्र बोर्ड के विद्यार्थियों के नंबरों में कमी के मुद्दे पर शिक्षा मंत्री आशीष शेलार केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री से मुलाकात कर राहत देने की मांग करेंगे।


मुंबई। महाराष्ट्र बोर्ड के विद्यार्थियों के नंबरों में कमी के मुद्दे पर शिक्षा मंत्री आशीष शेलार केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री से मुलाकात कर राहत देने की मांग करेंगे। विज्ञान संकाय की बारहवीं की परीक्षा के प्रारूप में बदलाव के बाद  प्रतियोगी परीक्षाओं में पास होने के बाद भी दाखिले के लिए 12वीं में 75 फीसदी अंक लाने के नियम के चलते कई विद्यार्थियों को नुकसान हो सकता है। ध्यानाकर्षण प्रस्ताव के माध्यम से पूछे गए सवाल के जवाब में  शिक्षा मंत्री ने कहा कि देशभर में समानता लाने के लिए काउंसिल ऑफ बोर्ड्स ऑफ स्कूल एजुकेशन इन इंडिया (कॉब्से) की सलाह पर प्रारूप में बदलाव किया गया था। यह प्रारूप शैक्षणिक सत्र 2017-18 में 11वीं और 2018-19 में 12वीं में लागू किया गया। बदलाव के बाद इस साल भौतिकी, रसायन, जीव विज्ञान,  गणित और सांख्यिकी में 50 फीसदी से ज्यादा अंक हासिल करने वाले विद्यार्थियों की संख्या कम हो गई है। 

इसके अलावा पिछले शैक्षणिक सत्र के मुकाबले इस साल पास होने वाले विद्यार्थियों की संख्या में भी 3.25 फीसदी की कमी आई है। शेलार ने बताया कि कई विद्यार्थी हैं जो जेईई, जेईई  एडवांस और दूसरी स्पर्धा परीक्षाओं में तो पास हो गए हैं लेकिन 12वीं की परीक्षा में फेल हैं। ऐसे विद्यार्थियों को पुनर्मूल्यांकन प्रक्रिया में प्राथमिकता दी जा रही है। शेलार ने कहा कि 50 फीसदी पुनर्मूल्यांकन का काम पूरा हो चुका है। बाकी पुनर्मूल्यांकन जल्द से जल्द खत्म करने की कोशिश की जा रही है। 

शेलार ने बताया कि कॉब्से ने 2014 में ही विषयों में समानीकरण के निर्देश दिए थे लेकिन राज्य में यह प्रकिया 2017 से शुरू की गई। इससे पहले शिक्षकों  को प्रशिक्षण दिया गया। उन्होंने कहा कि इसके लिए किसी को जिम्मेदार नहीं ठहराया जा सकता। शेलार ने बताया कि 3225 विद्यार्थियों ने नंबर जांच के  लिए अब तक अर्जी दी है इसमें से 1481 की जांच पूरी हो चुकी है। 9886 विद्यार्थियों ने उत्तर पुस्तिका की छायांकित प्रति मांगी है जिसमें से 5155 विद्यार्थियों को छायांकित प्रतियां उपलब्ध करा दी गईं हैं। 244 विद्यार्थियों ने पुनर्मूल्यांकन की अर्जी की थी जिसमें से 104 का पुनर्मूल्यांकन कर दिया गया है। 

मात्र 260000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

More From national

Trending Now
Recommended