संजीवनी टुडे

ईडी ने मनी लॉन्ड्रिंग में मोहम्मद रियाज़ को किया गिरफ्तार

संजीवनी टुडे 05-07-2019 22:35:13

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने मनी लॉन्ड्रिंग मामले की जांच करते हुए मोहम्मद रियाज़ को गिरफ्तार किया है।


मुंबई। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने मनी लॉन्ड्रिंग मामले की जांच करते हुए मोहम्मद रियाज़ को गिरफ्तार किया है। मोहम्मद रियाज़ ने 57 शेल कंपनियों की मदद से ट्रेडिंग की और इन कंपनियों के मार्फत 3500 करोड़ रुपये की हेराफेरी की है। ईडी ने यह कार्रवाई दिल्ली औऱ चेन्नई में सीबीआई की ओऱ से दर्ज एफआईआर के आधार पर की है। 

ईडी की ओर से शुक्रवार को बताया गया कि मनी लॉन्ड्रिंग मामले की जांच करते हुए मोहम्मद रियाज़ उर्फ मोहम्मद समी उर्फ सलीम को गिरफ्तार किया गया है। मोहम्मद रियाज़ मेसर्स एस्ट्रल एक्जिम कंपनी का प्रोपराइटर है। मनी-लॉन्ड्रिंग निरोधक कानून (पीएमएलए 2002) के प्रावधानों के तहत केस दर्ज किया गया था। ईडी ने केंद्रीय सतर्कता आयोग, नई दिल्ली के निर्देश पर जांच शुरू की थी। इससे पहले, सीबीआई (नई दिल्ली) रियाज के खिलाफ फर्जी कंपनियों की मदद से 3500 करोड़ रुपये के हवाला कारोबार मामले में एफआईआर दर्ज की थी। 

जांच में सामने आया कि फर्जी कंपनियों की मदद से रियाज ट्रेडिंग कारोबार चलाता था। इसने सिंडिकेट बैंक, रत्नाकर बैंक लिमिटेड, आईसीआईसीआई बैंक, करूर बैश्य बैंक समेत कई अन्य बैंकों में नकली दस्तावेजों,व पैन कार्ड की मदद से फर्जी कंपनियों के करेंट बैंक खाते खोले थे। इन बैंकों का उपयोग हवाला ऑपरेटर के जरिए रकम को देश-विदेशों में भेजा जाता था। ईडी ने जांच के दौरान पाया कि केवल दो महीने में ही 14.5 करोड़ रुपये हवाला के जरिए जमा किये गया है। इसका खुलासा होते ही इस रकम को जब्त कर लिया गया। जांच में यह भी पता चला कि जैसे ही बैंक खातों में रकम जमा होती थी, वैसे ही इस रकम को हॉन्गकॉन्ग व अन्य देशों में ट्रांसफर कर दिया जाता था। पिछले साल भी इसी मामले में ईडी ने तीन लोगों को हिरासत में लिया था। ईडी ने रियाज के नाम पर बनाए गए कई फर्जी पैन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस एवं अन्य दस्तावेज भी बरामद किए हैं। उसे न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। 

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 4300/- गज, अजमेर रोड (NH-8) जयपुर में 7230012256

More From national

Trending Now
Recommended