संजीवनी टुडे

Doctors Strike: देशभर में जगह-जगह प्रदर्शन, AIIMS भी समर्थन में आया, मरीज परेशान

संजीवनी टुडे 17-06-2019 11:33:41

इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) के आह्वान पर सोमवार को देशभर में डॉक्टरों की हड़ताल है। हड़ताल के चलते निजी अस्पतालों एवं नर्सिंग होमों में ओपीडी पूरी तरह से बंद रही है। निजी चिकित्सकों के क्लिनिक एवं अल्ट्रासाउंड केंद्र भी बंद हैं। बड़े निजी अस्पतालों में केवल आपातकालीन सेवाएं चालू हैं।


नई दिल्ली। इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) के आह्वान पर सोमवार को देशभर में डॉक्टरों की हड़ताल है। हड़ताल के चलते निजी अस्पतालों एवं नर्सिंग होमों में ओपीडी पूरी तरह से बंद रही है। निजी चिकित्सकों के क्लिनिक एवं अल्ट्रासाउंड केंद्र भी बंद हैं। बड़े निजी अस्पतालों में केवल आपातकालीन सेवाएं चालू हैं। बता दें की ओपीडी सेवा सहित गैर जरूरी सेवाएं सोमवार सुबह छह बजे से मंगलवार सुबह छह बजे तक 24 घंटे के लिए बंद रहेंगी। 
 

- राजस्थान: जयपुर के जयपुरिया अस्पताल में हड़ताल पर डॉक्टर,  इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (IMA) ने पश्चिम बंगाल में डॉक्टरों के खिलाफ हिंसा के मद्देनजर डॉक्टरों की देशव्यापी हड़ताल का आज आह्वान किया है। 

 

- गुजरात : इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने आज पश्चिम बंगाल में डॉक्टरों के खिलाफ हिंसा के मद्देनजर गुजरात के डॉक्‍टरों ने देशव्यापी हड़ताल का आह्वान किया। वडोदरा के सर सयाजीराव जनरल अस्पताल के डॉक्टरों ने आउट पेशेंट विभाग के बाहर विरोध प्रदर्शन किया। 
 
- आईएमए त्रिपुरा यूनिट के जनरल सेक्रेटरी डॉ एस देबबर्मा ने कहा, 'ऑल त्रिपुरा गवर्नमेंट डॉक्टर्स एसोसिएशन और आईएमए त्रिपुरा ने पश्चिम बंगाल में डॉक्टरों के खिलाफ हुए हालिया हिंसा के विरोध में 24 घंटे के लिए सभी ओपीडी सेवाएं बंद कर दी है।'

-केंद्र सरकार द्वारा संचालित सफदरजंग अस्पताल, लेडी हार्डिंग मेडिकल कॉलेज और अस्पताल, आरएमएल अस्पताल के साथ-साथ दिल्ली सरकार के जीटीबी अस्पताल, डॉ. बाबा साहेब अंबेडकर अस्पताल, संजय गांधी मेमोरियल अस्पताल और दीन दयाल उपाध्याय अस्पताल के डॉक्टर भी हड़ताल में शामिल हो रहे हैं।

-दिल्ली में अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) की रेजिडेंट डॉक्टर्स एसोसिएशन ने परिसर में सुबह आठ बजे से नौ बजे तक प्रदर्शन मार्च किया और दोपहर 12 बजे से वे हड़ताल में शामिल होंगे। पहले इन्होंने हड़ताल में शामिल ना होने का फैसला लिया था लेकिन बाद में सुबह आम सभा में हड़ताल का फैसला लिया गया।

क्या है मांग
इंडियन मेडिकल एसोसिएशन की मांग है कि सभी स्वास्थ्य सेवाओं, अस्पतालों को सेफ जोन घोषित किया जाए। अस्पतालों में और इनके आसपास त्रिस्तरीय सुरक्षा व्यवस्था शुरू की जाए। सभी अस्पतालों में सिक्योरिटी बढ़ाने के साथ-साथ पूरे अस्पतालों में सीसीटीवी लगाने की मांग भी शामिल है। मांग है कि अभी के मामले में ममता बनर्जी घायल डॉक्टर से मिलने जाएं और डॉक्टरों से उनके बुलाए स्थान पर जाकर बात करें। 

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब बटन

मात्र 260000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

More From national

Trending Now
Recommended