संजीवनी टुडे

रात में निकाह और सुबह तलाक

संजीवनी टुडे 20-06-2019 02:45:00

झारखंड में लड़के वालों ने दुल्हन काे पुराना कपड़ा दिया ताे नाराज लड़की पक्ष ने मंगलवार की रात में बेटी का निकाह किया और बुधवार सुबह हाेते ही तलाक दिला दिया।


रांची। झारखंड में लड़के वालों ने दुल्हन काे पुराना कपड़ा दिया ताे नाराज लड़की पक्ष ने मंगलवार की रात में बेटी का निकाह किया और बुधवार सुबह हाेते ही तलाक दिला दिया। साथ ही देनमाेहर की राशि वापस करने की मांग काे लेकर लड़की पक्ष के लाेगाें ने दूल्हा समेत 150 बारातियाें काे बंधक बना लिया। बाद में विधायक बादल पत्रलेख की पहल पर मामले का निपटारा किया गया और लड़की पक्ष काे दैनमाेहर की राशि 3 लाख 40 हजार रुपये वापस की गई। तब जाकर दूल्हा समेत बारातियों को मुक्त किया गया। घटना देवघर जिले के सारठ थाना क्षेत्र के पिंडारी गांव का है। हालांकि मामले की सूचना के बाद पुलिस पहुंची थी, लेकिन ग्रामीणाें ने कहा कि यह समाज का मामला है हमलोग खुद ही निबट लेंगे। 

पिंडारी गांव निवासी नौशाद अंसारी की बेटी निकहत फातेमा का निकाह सोनारायठाढ़ी थाना क्षेत्र के खुर्शीद अंसारी के बेटे आरीफ अंसारी के साथ तय हुई थी। अपनी लड़की की शादी में नाैशाद अंसारी ने दहेज में नगद और समान सहित साढ़े तीन लाख रुपये दिये थे। तय तारीख पर 18 जून मंगलवार को बारात आयी। रात में दूल्हा-दुल्हन की निकाह की रस्में पूरी हुई। तभी दुल्हन के लिए जब दूल्हा पक्ष के लोगों ने पुराने कपड़े दिये तो दुल्हन पक्ष की महिलाएं पुराने कपड़े देख नाराज हो गईं और जब दूल्हे पक्ष से नये कपड़े देने की बात कही। इस पर दूल्हे पक्ष के लोगों ने कहा कि दूसरे कपड़े नहीं हैं। इसके बाद दोनों पक्षों में विवाद शुरू हो गया और देखते-देखते बात आगे बढ़ गई। फिर दुल्हन पक्ष के लोगों ने निकाह को तोड़ते हुए दूल्हे के पिता से देनमोहर के साढ़े तीन लाख रुपये वापस मांगे। दूल्हा पक्ष के इनकार करने पर लड़की वालों समेत ग्रामीणों ने दूल्हा समेत सभी बारातियों को बंधक बना लिया। इसके बाद घटना की सूचना लड़का पक्ष ने स्थानीय विधायक बादल पत्रलेख को दी। 

सूचना मिलने पर आज सुबह करीब 10 बजे विधायक बादल पत्रलेख पिंडारी गांव पहुंचे और पूरे मामले की जानकारी ली। वहीं खुर्शीद अंसारी को देनमोहर की राशि वापस करने को कहा। खुर्शीद अंसारी ने रुपये नहीं होने की बात कही तो विधायक ने दुल्हन पक्ष को तीन लाख 40 हजार रुपये नगद देकर मामले को शांत किया। दुल्हन के लिए पुराने कपड़े लाने पर हुआ विवादः विधायक विधायक बादल पत्रलेख ने कहा कि निकाह में दुल्हन को नये कपड़े देने का रिवाज है, लेकिन दूल्हे के पिता ने पहले की बहू को दिये पुराने कपड़े को ही इस निकाह में दिया था। इसे लड़की वालों ने स्वीकार नहीं किया। नये कपड़े लाने को कहने पर लड़का पक्ष ने इनकार कर दिया। इस पर विवाद उत्पन्न हो गया और निकाह के साथ ही तलाक भी हो गया। दूल्हे के साथ ही बरातियों को भी बंधक बना लिया गया था। 

मात्र 260000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

More From national

Trending Now
Recommended