संजीवनी टुडे

पास हुआ 'दिशा बिल 2019', अब नहीं बचेंगे दुष्कर्मी, 21 दिन में होगी फांसी

संजीवनी टुडे 14-12-2019 05:06:00

देश में महिलाओं पर हो रहे जघन्य अपराधों के लिए शुक्रवार को आंध्र प्रदेश विधानसभा में बड़ा विधेयक पारित हुआ। आंध्र प्रदेश विधानसभा में आंध्र प्रदेश दिशा बिल 2019 पारित हुआ। इसके साथ


नई दिल्ली। देश में महिलाओं पर हो रहे जघन्य अपराधों के लिए शुक्रवार को आंध्र प्रदेश विधानसभा में बड़ा विधेयक पारित हुआ। आंध्र प्रदेश विधानसभा में 'आंध्र प्रदेश दिशा बिल 2019' पारित हुआ। इसके साथ ही रेप के मामले में मौत की सजा का प्रावधान देने वाला आंध्र प्रदेश पहला राज्य बन गया है। 

यह खबर भी पढ़ें: मैं इनसे कभी माफी नहीं मांगूंगा, PM मोदी ने खुद दिल्ली को रेप कैपिटल कहा: राहुल गांधी

इस प्रस्तावित नए कानून का नाम ‘आंध्र प्रदेश दिशा अधिनियम आपराधिक कानून (आंध्र प्रदेश संशोधन) अधिनियम, 2019 रखा गया है। इस बिल के अनुसार दुष्‍कर्म और सामूहिक दुष्‍कर्म के दोषियों को मौत की सजा देने की छूट है।

यह खबर भी पढ़ें: ज्वालामुखी से गंभीर झुलसे घायलों के लिए 1292 वर्ग मीटर मानव त्वचा का आर्डर

साथ ही इन मामलों की सुनवाई 21 दिनों के भीतर खत्‍म करना होगा। यह कानून, आंध्र प्रदेश अपराध कानून में एक संशोधन होगा जिसे 'आंध्र प्रदेश दिशा कानून' नाम दिया गया है। पड़ोस के तेलंगाना में हाल ही में दुष्कर्म और हत्या का शिकार हुई महिला पशु चिकित्सक की याद में यह कानून लाया जा रहा है। 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From national

Trending Now
Recommended