संजीवनी टुडे

Dipti Murder case: हाई प्रोफाइल नैशनल अवॉर्डी हेमंत लांबा ने अपनी प्रेमिका व कैब ड्राइवर की हत्या...

संजीवनी टुडे 14-12-2019 10:25:37

अपनी मंगेतर दीप्ति समेत 2 लोगों की हत्या के आरोप में सूरत से गिरफ्तार हेमंत लांबा फिटनेस इंडस्ट्री का जाना-माना नाम है।


जयपुर। अपनी मंगेतर दीप्ति समेत 2 लोगों की हत्या के आरोप में सूरत से गिरफ्तार हेमंत लांबा फिटनेस इंडस्ट्री का जाना-माना नाम है। हत्यारोपित हेमंत लांबा ने एक सोची-समझी रणनीति के तहत अपनी गर्लफ्रेंड को मौत के घाट उतारा था। हेमंत लांबा ने जिस कैब में वारदात को अंजाम दिया उसकी बुकिंग उसकी गर्लफ्रेंड दीप्ति के मोबाइल फोन से ही की गई थी। 

ये खबर भी पढ़े: राजस्थान/ ओलावृष्टि से फसलें तबाह; किसानों के चेहरे मुरझाए, मुआवजे की गुहार

इसके बाद जयपुर पहुंचकर कैब चालक को भी मौत के घाट उतार दिया। जब वह सूरत में कैब बेचने की फिराक में था तो कार डीलर ने शक होने पर इसकी जानकारी स्थानीय पुलिस को दी, जिसके बाद उसे गिरफ्तार किया गया। इसके बाद आरोपी हेमंत लांबा को धारूहेड़ा थाना पुलिस रेवाड़ी लेकर पहुंची है। 

दिखने में स्मार्ट और राष्ट्रीय स्तर का बॉडी बिल्डर दिल्ली निवासी हेमंत लांबा डबल मर्डर को अंजाम देगा किसी ने सोचा भी नहीं था। हाई प्रोफाइल नैशनल अवॉर्डी हेमंत पर अपनी प्रेमिका व कैब ड्राइवर की हत्या करने का आरोप है।

ये खबर भी पढ़े: पास हुआ 'दिशा बिल 2019', अब नहीं बचेंगे दुष्कर्मी, 21 दिन में होगी फांसी

इसके बाद सूरत पुलिस ने जयपुर पुलिस की सूचना पर आरोपी को अपनी हिरासत में ले लिया। सूरत पुलिस की पूछताछ में आरोपी हेमंत ने इनोवा चालक देवेन्द्र सिंह की हत्या करना कबूला, साथ में दिल्ली निवासी मंगेतर दीप्ति की भी हरियाणा के धारूहेड़ में गोली मार हत्या करना बताया। 

इस पर सूरत पुलिस ने हरियाणा पुलिस से संपर्क कर युवती की हत्या के संबंध में तस्दीक की। तभी हरियाणा पुलिस को ब्लाइंड मर्डर के खुलासा होने की जानकारी लगी, लेकिन साथ में यह भी पता चला कि आरोपी हेमंत जयपुर के चंदवाजी में भी देवेन्द्र की हत्या कर फरार हो गया था। 

जयपुर ग्रामीण पुलिस उसे लाने के लिए सड़क मार्ग से सूरत के लिए रवाना हो गई है। तब हरियाणा पुलिस ने गुरुग्राम से सूरत की हवाई जहाज पकड़ दो घंटे में ही वहां पहुंच गई। जयपुर पुलिस सूरत पहुंची तब तक हरियाणा पुलिस आरोपी को हवाई जहाज से ही लेकर वापस भी आ गई। अब जयपुर पुलिस हरियाणा पुलिस की जांच के बाद आरोपी को प्रॉडक्शन वारंट पर गिरफ्तार करेगी।

मंगेतर के मोबाइल से की थी कार बुक
पत्रिका की न्यूज़ के अनुसार जयपुर के चंदवाजी में सड़क किनारे मिले युवक के शव के पास एक कार खड़ी होने की सूचना मिली। युवक को गोली मारी गई थी और कार का शीशा भी टूटा पड़ा था। तब पुलिस ने टोल नाकों की सीसीटीवी फुटेज खंगाली। एक एसयूवी कार संदिग्ध नजर आई। उसके नंबरों के आधार पर कार मालिक दिल्ली निवासी अजीत सिंह से संपर्क किया। 

ये खबर भी पढ़े: पुराने जमाने में इस तरह से करती थीं रानियां राजाओं को आकर्षित, आप भी जानकर रह जायेंगे हैरान

अजीत ने बताया कि उसका भाई देवेन्द्र सिंह बुकिंग पर कार लेकर गया है। वह 7 दिसंबर से लापता है, जिसकी गुमशुदगी डाबड़ी थाने में दर्ज करवाई थी। बुकिंग करवाने वाले मोबाइल नंबर की डिटेल खंगाली तो वह दिल्ली निवासी दीप्ति गोयल का निकला। दीप्ति की 6 दिसंबर को धारूहेड़ा में चार गोली मारकर हत्या की गई थी और शव सड़क पर फेंक दिया गया था। युवती आरोपी की मंगेतर थी। बाद में कार की लोकेशन सूरत में मिली। आरोपी हेमंत कार को बेचने के लिए सूरत ले गया था। 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From national

Trending Now
Recommended