संजीवनी टुडे

ईडी की नोटिस के संबंध में दीपक तलवार की पत्नी को सीबीआई कोर्ट जाने के निर्देश

संजीवनी टुडे 23-04-2019 22:02:06


नई दिल्ली। दिल्ली हाईकोर्ट ने अगस्ता वेस्टलैंड हेलीकॉप्टर घोटाला मामले में गिरफ्तार कारपोरेट लॉबिस्ट दीपक तलवार की पत्नी दीपा को निर्देश दिया है कि वो ईडी की नोटिस के संबंध में सीबीआई कोर्ट का दरवाजा खटखटाए। जस्टिस एके चावला ने यह आदेश जारी किया।

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

दरअसल दीपा ने हाईकोर्ट में याचिका दायर कर ईडी की नोटिस पर पूछताछ के लिए ईडी के दफ्तर की बजाय उसके आवास पर पूछताछ के लिए दिशा निर्देश जारी किया जाए। दीपा ने याचिका में कहा था कि किसी महिला को भारतीय दंड संहिता की धारा-160 के तहत ईडी के दफ्तर पूछताछ के लिए नहीं बुलाया जा सकता। दीपा को ईडी ने 22 अप्रैल को ईडी दफ्तर आकर पूछताछ में शामिल होने का नोटिस जारी किया था।

पिछले 11 अप्रैल को दिल्ली की राऊज एवेन्यू कोर्ट ने दीपा को निर्देश दिया था कि वो ईडी की नोटिस पर दो सप्ताह के भीतर जांच में शामिल हों। तब तक ईडी दीपा के खिलाफ कोई निरोधात्मक कार्रवाई नहीं करें। दीपा ने अग्रिम जमानत याचिका दायर की है। याचिका पर सुनवाई करते हुए कोर्ट ने ईडी को नोटिस जारी किया था। दीपा ने अपनी याचिका में कहा है कि अगर वो जांच में सहयोग करने के लिए भारत आती है तो उसे कभी भी गिरफ्तार किया जा सकता है। 

पिछले 30 मार्च को ईडी ने कोर्ट में तलवार के खिलाफ चार्जशीट दाखिल किया था। ईडी ने दीपक तलवार के अलावा उसके पुत्र आदित्य तलवार को भी आरोपित बनाया है। कोर्ट 15 अप्रैल को इस चार्जशंज्ञान ले सकता है। आरोप पत्र में दीपक तलवार पर राजनेताओं और नौकरशाहों से सांठ-गांठ कर एयर इंडिया को नुकसान पहुंचाने की साजिश रचने का आरोप लगाया गया है। चार्जशीट में कहा गया है कि निजी एयरलाइंस को लाभ वाले रूट पर लाने के लिए आपराधिक साजिश रचा गया, जिससे एयर इंडिया को काफी नुकसान झेलना पड़ा।

ईडी के मुताबिक तलवार ने विदेशी निजी एयरलाइंस के पक्ष में काम किया और इस कारण एयर इंडिया को काफी नुकसान झेलना पड़ा। इसके बदले में विदेशी एयरलाइंस कंपनियों ने तलवार की कंपनी को 23 अप्रैल,2008 से छह फरवरी,2009 के बीच करीब 4.33 अरब रुपये दिए थे।

MUST WATCH &SUBSCRIBE 

प्रत्यर्पित कर भारत लाए जाने के बाद दीपक तलवार के खिलाफ यह पहली चार्जशीट है। दीपक तलवार को दुबई में 30 जनवरी को गिरफ्तार किया गया था। उसके बाद दुबई निवासी व्यवसायी राजीव सक्सेना को भी गिरफ्तार कर 31 जनवरी को भारत लाया गया था। राजीव सक्सेना सरकारी गवाह बन गया है जबकि दीपक तलवार अभी जेल में बंद है।

More From national

Loading...
Trending Now
Recommended