संजीवनी टुडे

Corona virus: लॉकडाउन के चलते नहीं मिला वहां तो बच्चे को गोद में लेकर पैदल ही दिल्ली से उत्तराखंड पहुंची महिला, तस्वीरें viral

संजीवनी टुडे 27-03-2020 08:18:07

एक महिला की तस्वीर सामने आई है, जिसकी गोद में एक बच्चा भी है।


डेस्क। देश में कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए केंद्र सरकार ने सम्पूर्ण देश में लॉकडाउन की घोषणा कर दी है। जिसकी वजह से सभी यातायात के साधनो पर रोक लगा दी गई है। ऐसे में जब बस और ट्रेन सेवाएं बंद हो गई तो लोग पैदल ही अपने होम स्टेट लौटने को मजबूर हो गए है। ऐसे में एक महिला की तस्वीर सामने आई है, जिसकी गोद में एक बच्चा भी है। 

corona virus

दिल्ली से पैदल चलकर एक महिला सहित आठ नेपाली लोग उत्तराखंड से लगे रामपुर बॉर्डर पहुंच गए। इनमें शामिल एक महिला के पास तीन महीने का बच्चा भी था। सूचना पर पुलिस ने सभी के स्वास्थ्य की जांच कराई और वाहन की व्यवस्था कर उन्हें बनबसा के लिए रवाना कर दिया। 

corona virus

पुलिस की मदद के लिए आभार जताते हुए नेपाली लोग भावुक हो गए। दल में शामिल राजेश ने पुलिस को बताया कि लॉकडाउन के चलते बस और ट्रेन सेवाएं बंद है और उन्हें अपने देश लौटना था। उन्होंने 22 मार्च को दिल्ली से पैदल चलना शुरू किया था। रास्ते मे लोगों ने उन्हें खाना दिया। पैदल चलते हुए वे यहां तक पहुंचे है। इसके बाद एसएसपी बरिंदर जीत सिंह ने चंपावत के एसपी से बात की। 

corona virus

कोतवाल भट्ट ने बताया कि सभी का स्वास्थ्य जांचा गया था। इसके बाद एक वाहन का इंतजाम कर सभी लोगों को भोजन कराकर बनबसा के लिए रवाना कर दिया है। सभी को सुरक्षा के लिए मास्क भी दिए गए। बताया कि पूर्वी चंपारण बिहार के 30 मजदूरों के फसे होने की सूचना मिली है। उनको खोजा जा रहा है। इसके बाद उनको भी घर भेजने की व्यवस्था की जाएगी।

corona virus

कुछ ऐसा ही हाल प्रदेश में अन्य जगह भी है। लॉकडाउन के दौरान फोरलेन पर सीएनजी व पेट्रोल वाले ऑटो दिखाई दे रहे हैं। इसके अलावा बाइक से भी कुछ युवक लंबा सफर तय कर बिहार स्थित घर पहुंच रहे हैं। ऑटो चालक गाड़ी का पर्दा गिराकर बीच के सीट पर दो से तीन लोगों को बैठाकर हाईस्पीड में चल रहे थे। रात होने पर किसी ढाबे पर पहुंचकर कुछ समय आराम करने के बाद पुन: घर के लिए रवाना हो रहे हैं। 

corona virus

इतना ही नहीं सफर में जगह-जगह लॉकडाउन होने के कारण दुकानें बंद होने पर उन्हें खाने-पीने तक का सामान नहीं मिल रहा है। कसया के होटल दुकानदार विजय ने बताया कि पिछले दो दिनों से दिल्ली नम्बर की ऑटो लगातार हाइवे पर दिखाई दे रहे हैं। बाइकर्स दो से तीन के झुंड बनाकर चल रहे हैं। 

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब बटन

 

वहीँ अगर पैदल चलने वालों की बात की जाये तो 21 दिन के देशव्यापी लॉकडाउन के बीच गुजरात में काम करने वाले राजस्थान के हजारों प्रवासी मजदूर परिवहन सेवा उपलब्ध न होने की वजह से पैदल ही अपने घर को लौट रहे हैं। हालांकि, गुजरात पुलिस उन्हें समझाने का प्रयास कर रही है कि वे यात्रा न करें।

यह खबर भी पढ़े: कोरोना से इटली में मौत का आंकडा 8200 पार हुआ

यह खबर भी पढ़े कोरोना महामारी से प्रदेशवासियों के जीवन की रक्षा हमारा संकल्प- मुख्यमंत्री

लॉकडाउन से गरीबो की परेशानी में मदद के लिए अपना सहयोग दे सकते है Paytm no. 8094811115  बैंक अकाउंट 27950200001157 ifs code BARB0JAISAN संजीवनी चैरिटबल ट्रस्ट

मात्र 289/- प्रति sq. Feet में जयपुर में प्लॉट बुक करें 9314166166

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From national

Trending Now
Recommended