संजीवनी टुडे

एक से ज्यादा सीट से चुनाव लड़ने पर रोक की मांग पर अगले माह सुनवाई

संजीवनी टुडे 15-07-2019 14:46:54

सुप्रीम कोर्ट एक से ज्यादा सीट से चुनाव लड़ने पर रोक की मांग पर अगस्त में सुनवाई करेगा।


नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट एक से ज्यादा सीट से चुनाव लड़ने पर रोक की मांग पर अगस्त में सुनवाई करेगा। इस याचिका का केंद्र सरकार ने विरोध किया है। केंद्र सरकार ने कहा है कि कानून में बदलाव करने का अधिकार संसद को है। इस याचिका का चुनाव आयोग ने समर्थन किया है।

याचिका बीजेपी नेता और वकील अश्विनी उपाध्याय ने दायर किया है। याचिका में कहा गया है कि जब कोई वोटर दो सीटों पर वोट नहीं डाल सकता है तो कोई व्यक्ति दो सीटों पर चुनाव कैसे लड़ सकता है? सुप्रीम कोर्ट पिछले 27 मार्च को इस याचिका पर सुनवाई को तैयार हो गया था।

इस मामले में केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दायर कर कहा है कि ऐसा प्रावधान राजनीति के साथ-साथ उम्मीदवार के लिए व्यापक विकल्प प्रदान करता है और देश में लोकतांत्रिक व्यवस्था के अनुरुप है। पिछले 4 अप्रैल को निर्वाचन आयोग ने हलफनामा दायर कर नेताओं को एक से अधिक सीट से चुनाव लड़ने पर रोक का चुनाव आयोग ने समर्थन किया है।

केंद्र सरकार ने अपने हलफनामे में कहा है कि प्रत्येक व्यक्ति को चुनाव लड़ने का अधिकार है और जनप्रतिनिधित्व अधिनियम की धारा 70 केवल एक सीट जीतने के बाद एक निर्वाचन क्षेत्र छोड़ने के लिए पालन की जाने वाली प्रक्रिया को बताती है। केंद्र ने कहा है कि चुनावी सुधार के सवाल के लिए सभी राजनीतिक दलों, न्यायविदों और जनता के सदस्यों से परामर्श की आवश्यकता है।
केंद्र सरकार के उलट निर्वाचन आयोग ने अपने हलफनामे में कहा है कि दो जगह से चुनाव लड़ना फिर एक सीट छोड़ देना मतदाताओं के साथ अन्याय है। इससे आर्थिक बोझ बढ़ता है। अपने हलफनामे में आयोग ने सुझाव दिया है कि सीट छोड़ने वाले से दोबारा चुनाव का खर्च वसूला जाना चाहिए। आयोग ने कहा है कि इसके लिए कानून में बदलाव होना चाहिए। 

याचिका में कहा गया कि जब एक उम्मीदवार दो सीटों से चुनाव लड़ता है और अगर वह दोनों ही सीटों पर विजयी होता है तो यह अनिवार्य है कि उसे दो में से एक सीट छोड़नी पड़ती है। इससे न सिर्फ सरकारी खजाने पर बल्कि खाली हुई सीट पर चुनाव कराने से सरकारी तंत्र और अन्य संसाधनों पर आर्थिक बोझ पड़ता है। इसके साथ ही यह उस विधानसभा के मतदाताओं के साथ नाइंसाफी भी है, जहां से उम्मीदवार हट रहा है। 

याचिका में कहा गया है कि जुलाई 2004 में मुख्य चुनाव आयुक्त ने भी तत्कालीन प्रधानमंत्री से जनप्रतिनिधित्व अधिनियम की धारा 33(7) में संशोधन की मांग की थी ताकि एक व्यक्ति एक ही पद के लिए एक से ज्यादा सीट पर चुनाव नहीं लड़ सके।

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

More From national

Trending Now
Recommended