संजीवनी टुडे

शिवराज के बंगले पर कर्जमाफी के सबूत लेकर पहुंची कांग्रेस

संजीवनी टुडे 07-05-2019 12:27:27


भोपाल। प्रदेश में इन दिनों लोकसभा चुनाव के साथ ही किसान कर्जमाफी का मुद्दा गर्माया हुआ है। भाजपा लोकसभा चुनाव में प्रदेश के किसानों की कर्जमाफी का मुद्दा जोर-शोर से उठा रही है। पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह तक अपने हर भाषण में प्रदेश की कमलनाथ सरकार को घेर रहे हैं और कर्ज माफी को झूठा करार दे रहे हैं ।मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

 ऐसे में भाजपा को जवाब देने के लिए मंगलवार की सुबह कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सुरेश पचौरी के नेतृत्व में एक प्रतिनिधिमंडल किसानों की कर्जमाफी के सबूत लेकर सीधे शिवराज सिंह के बंगले पर पहुंच गए और उन्हें कर्जमाफी के सबूत सौंपे। उनके साथ मीडिया विभाग की अध्यक्ष शोभा ओझा, नरेन्द्र सलूजा समेत बड़ी संख्या में कांग्रेसी नेता और कार्यकर्ता मौजूद थे। 

शिवराज के बंगले पर कांग्रेस के कार्यकर्ता गाडियों में भरकर आये | वे कर्जमाफी से जुड़े सर्टिफिकेट और फाइलों के बंडल लेकर पहुंचे थे। इस सूची में किसानों का नाम, उनके मोबाइल नंबर, जिस बैंक से लोन लिया गया था, उसकी सारी जानकारी है। इस मौके पर कांग्रेस नेता सुरेश पचौरी ने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि, किसानों की कर्जमाफी का मामला छुपा नहीं है। सारी जानकारी ऑनलाइन दर्ज है। शिवराज सिंह और भाजपा लोगों को गुमराह कर रही है। झूठ परोस रही है। उन्होंने शिवराज सिंह पर सवाल खड़े करते हुए कहा कि, जब वो सत्ता में थे तो उन्होंने किसानों का पचास हजार तक का कर्जा माफ करने की बात कही थी। लेकिन वो वादा नहीं पूरा हुआ। बता दें कि प्रदेश सरकार ने अब तक 21 लाख किसानों का कर्जा माफ कर दिया है।

शिवराज ने मांगी बैंकों की सूची
पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बंगले पर एक प्रेस वार्ता आयोजित कर कांग्रेस की कर्जमाफी को छलावा बताते हुए अपनी बात दोहराते हुए कहा कि कर्जा माफ नहीं हुआ है | साथ ही उन्होंने सरकार से बैंकों की सूची मांगी है। शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि राहुल गांधी ने 10 दिन में कर्जमाफी का वादा किया था, लेकिन अब कह रहे हैं कि ये कर्ज़ा माफ करेंगे, वो कर्जा माफ करेंगे।

 वादा, सबका कर्जा माफ करने का था। कर्जा माफ नहीं हुआ है। किसानों के साथ धोखा हुआ है। जब तक बैंकों को सरकार पैसा नहीं देगी, कर्ज़ माफ नहीं होगा। आगे शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि केवल सूची बढ़ा देने से कर्जा माफ नहीं हो सकता है।

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब बटन

 

 48 हज़ार करोड़ के अगेन्स्ट 1300 करोड़ रुपये दिया है, तो कैसे कर्जा माफ होगा? मैं फिर कहता हूँ कि किसान का कर्जा माफ नहीं हुआ है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री कमलनाथ ने मुझे कृषि विभाग की किसानों की सूची भिजवाई है। आप बैंकों की सूची दीजिये, कर्ज़ माफ तो बैंक करेंगे। केवल माहौल बिगाडऩे और किसानों को भ्रमित करने से कुछ नहीं होगा। 

More From national

Trending Now
Recommended