संजीवनी टुडे

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गाँधी ने पीएम मोदी को लिखा पत्र, दिए ये पांच सुझाव

संजीवनी टुडे 08-04-2020 01:32:00

कोरोना के संकट को देखते हुए कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चिट्ठी लिखी है।


नई दिल्ली। कोरोना के संकट को देखते हुए कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चिट्ठी लिखी है। उसमे पीएम से आग्रह किया कि कोरोना संकट के मद्देनजर सरकारी खर्च में 30 फीसदी की कटौती, 'पीएम केयर्स' कोष के पैसे को प्रधानमंत्री आपदा राहत कोष में डालने और 'सेंट्रल विस्टा' परियोजना को स्थगित करने सहित मितव्ययता के कई कदम उठाये जाएं।

दरअसल, पीएम मोदी को लिखे पत्र में यह सुझाव भी दिया कि राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, मंत्रियों और नौकरशाहों के विदेश दौरों को स्थगित करने और सरकारी विज्ञापनों पर भी दो साल तक रोक लगाने की जरूरत है। सोनिया गांधी ने सांसदों के वेतन में 30 फीसदी की कटौती के फैसले का समर्थन किया, कोरोना संकट को लेकर प्रधानमंत्री ने रविवार को फोन पर सोनिया से बात की थी। सोनिया ने पीएम मोदी को दिया सुझाव इस प्रकार है

मीडिया विज्ञापनों पर दो साल तक रोक लगाने की मांग:
पीएम मोदी को लिखे पत्र में सोनिया गांधी ने कि सरकार एवं सरकारी उपक्रमों द्वारा मीडिया विज्ञापनों (टेलीविजन, प्रिंट एवं ऑनलाइन विज्ञापनों) पर दो साल के लिए रोक लगाकर यह पैसा कोरोना वायरस से उत्पन्न हुए संकट से लड़ने में लगाया जाए।

मीडिया विज्ञापनों पर हर साल 1,250 करोड़ रुपये खर्च करती है सरकार:
सोनिया गांधी के मुताबिक, केंद्र सरकार मीडिया विज्ञापनों पर हर साल करीब 1,250 करोड़ रुपये खर्च करती है। इसके अलावा, सरकारी उपक्रमों एवं सरकारी कंपनियों द्वारा विज्ञापनों पर खर्च की जाने वाली सालाना राशि इससे भी अधिक है।

सेंट्रल विस्टा परियोजना को स्थगित करने की मांग:
उन्होंने कहा कि 20,000 करोड़ रुपये की लागत से बनाए जा रहे ‘सेंट्रल विस्टा' परियोजना को स्थगित किया जाए। मौजूदा स्थिति में विलासिता पर किया जाने वाला यह खर्च व्यर्थ है।

सरकारी खर्चों के बजट में 30 फीसदी कटौती की जाए:
उन्होंने यह आग्रह भी किया कि भारत सरकार के खर्चे के बजट (वेतन, पेंशन एवं सेंट्रल सेक्टर की योजनाओं को छोड़कर) में भी इसी अनुपात में 30 फीसदी की कटौती की जानी चाहिए। यह 30 फीसदी राशि (लगभग 2.5 लाख करोड़ रुपये प्रतिवर्ष) प्रवासी मजदूरों, श्रमिकों, किसानों, एमएसएमई एवं असंगठित क्षेत्र में काम करने वालों के लिए आवंटित की जाए।

विदेश यात्राओं को स्थगित करने का दिया सुझाव:
उन्होंने कहा कि राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, केंद्रीय मंत्रियों, मुख्यमंत्रियों, राज्य के मंत्रियों तथा नौकरशाहों द्वारा की जाने वाली सभी विदेश यात्राओं को स्थगित किया जाए। केवल देशहित के लिए की जाने वाली आपातकालीन एवं अत्यधिक आवश्यक विदेश यात्राओं को ही प्रधानमंत्री द्वारा अनुमति दी जाए।

पीएम केयर्स फंड के पूरे पैसे को प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष में ट्रांसफर करने की मांग:
उन्होंने ‘पीएम केयर्स' फंड की संपूर्ण राशि को ‘प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष' में स्थानांतरित करने की मांग, कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि इससे इस राशि के आवंटन एवं खर्चे में पारदर्शिता, जिम्मेदारी तथा ऑडिट सुनिश्चित हो पाएगा। जनता की सेवा के लिए तय राशि के वितरण के लिए दो अलग-अलग मद बनाना मेहनत और संसाधनों की बर्बादी है।

यह खबर भी पढ़े: कोरोना संकट के बीच इंडिगो, विस्तारा एयरलाइंस ने 15 अप्रैल से की उड़ान की घोषणा

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From national

Trending Now
Recommended