संजीवनी टुडे

'धन्यवाद रैली' में बोले PM मोदी- कांग्रेस और शहरी नक्सली नागरिकता को लेकर फैला रहे हैं अफवाह

इनपुट- यूनीवार्ता

संजीवनी टुडे 22-12-2019 16:01:27

मोदी ने आयोजित जनसभा को सम्बोधित करते हुए कहा, हिन्दुस्तान की मिट्टी के मुसलमान जिनके पूवर्ज मां भारती की संतान हैं, उनका नागरिकता कानून या एनआरसी से कोई लेनादेना नहीं है।


नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कांग्रेस और उसकी सहयोगी दलों तथा शहरी नकस्लियों पर नागरिकता संशोधन कानून (सीएए)और राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (एनआरसी) को लेकर देश को तबाह करने के लिए झूठ तथा अफवाह फैलाने का आरोप लगाते हुए रविवार को कहा कि जो हिन्दुस्तान की मिट्टी के मुसलमान हैं, उन्हें सीएए और एनआरसी से कोई लेनादेना नहीं है।

यह खबर भी पढ़ें:​ ​PM मोदी ने कहा- नागरिकता संशोधन कानून को लेकर लोगों को किया जा रहा है भ्रमित

मोदी ने राष्ट्रीय राजधानी के रामलीला मैदान में भारतीय जनता पार्टी की ओर से आयोजित जनसभा को सम्बोधित करते हुए कहा, “ हिन्दुस्तान की मिट्टी के मुसलमान जिनके पूवर्ज मां भारती की संतान हैं, उनका नागरिकता कानून या एनआरसी से कोई लेनादेना नहीं है।”

उन्होंने कहा कि मुसलमानों को डिटेंशन केन्द्रों में भेजने की अफवाह फैलायी जा रही है जो सफेद झूठ है। नगारिकता कानून को गरीबों के खिलाफ बताया जा रहा है जबकि वास्तविकता यह है कि पाकिस्तान, बंगलादेश और अफगानिस्तान से आये शरणार्थी जो वर्षो से देश में रह रहे हैं उन्हें इस कानून का फायदा मिलेगा।

प्रधानमंत्री ने कहा कि कुछ दलित नेता भी इस विवाद में घुस गये हैं। वह उनसे पूछना चाहते हैं कि दलित राजनीति करने वाले लोग इतने दिनों से चुप क्यों थे। अब जब दलितों की समस्याओं का समाधान किया जा रहा है तो उनके पेट में चूहा क्यों कूद रहा है? उन्होंने कहा कि शरणार्थी और घुसपैठिया में अंतर है। घुसपैठिया अपनी पहचान छुपाता है जबकि शरणार्थी अपनी पहचान बताता है। नागरिकता संशोधन कानून किसी की नागरिकता छीनने के लिए नहींं है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From national

Trending Now
Recommended