संजीवनी टुडे

निजी लैब में कोरोना जांच की शुल्क तय करने के लिए समिति गठित

संजीवनी टुडे 06-06-2020 20:55:52

महाराष्ट्र में निजी लैब द्वारा कोरोना की जांच शुल्क तय करने के लिए चार सदस्यीय समिति का शनिवार को गठन किया गया है।


मुंबई।  महाराष्ट्र में निजी लैब द्वारा कोरोना की जांच शुल्क तय करने के लिए चार सदस्यीय समिति का शनिवार को गठन किया गया है। स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव डॉ. प्रदीप व्यास ने बताया कि इस समिति को 7 दिन का समय दिया गया है।  डॉ. प्रदीप व्यास ने कहा कि इससे पहले केंद्र सरकार के निर्देश के अनुसार निजी लैबों के लिए साढ़े चार हजार रुपये कोरोना जांच शुल्क तय किया गया था। लेकिन इस समय कोरोना की जांच के लिए लगने वाले उपकरण व अन्य सामान सस्ते हो गए हैं।

 इसी वजह से स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने अधिकारियों की बैठक में निजी लैबों की कोरोना जांच शुल्क कम करने का निर्णय लिया है। स्वास्थ्य मंत्री के निर्देश के अनुसार शनिवार को डॉ. सुधाकर शिंदे की अध्यक्षता में चार सदस्यीय समिति गठित की गई है। इस समिति में डॉ. अजय चंदनवाले, डॉ.  अमिता जोशी  और राज्य के स्वास्थ्य सेवा संचालक को नियुक्त किया गया है। 

डॉ. प्रदीप व्यास ने बताया कि महाराष्ट्र में केंद्र सरकार के निर्देश पर  44 शासकीय और  36 निजी लैब में कोरोना की जांच की जा रही है। शासकीय लैब में कोरोना मरीजों की कोरोना जांच निशुल्क की जा रही है, जबिक निजी लैबों में  4500 रुपये जांच शुल्क वसूला जा रहा है । इस शुल्क को कम किए जाने के लिए समिति गठित की गई है। समिति की एक सप्ताह बाद रिपोर्ट आने के बाद निजी लैबों का शुल्क नए तरीके से तय किया जाएगा। 

यह खबर भी पढ़े: बस फर्जीवाड़ें में जेल में बंद यूपी कांग्रेस अध्यक्ष लल्लू की रिहाई की मांग में उतरे सीएम भूपेश

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From national

Trending Now
Recommended